69 हजार शिक्षक भर्ती घोटाले को लेकर भीम आर्मी व आजाद समाज पार्टी ने किया जोरदार प्रदर्शन

69 हजार शिक्षक भर्ती घोटाले को लेकर भीम आर्मी व आजाद समाज पार्टी ने किया जोरदार प्रदर्शन

बुलन्दशहर। भीम आर्मी एवं आजाद समाज पार्टी ने 69 हजार शिक्षकों की भर्ती मामले में आरक्षण मे हुई गड़बड़ी को लेकर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट गेट पर धरना प्रदर्शन किया। भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष शेखर कुमार एवं आजाद समाज पार्टी ने संयुक्त संयुक्त रूप से राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को दिया। उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापकों के कुल 69 हजार पदों पर भर्ती की अधिसूचना हेतु दिनॉक 01-12 -2018 को विज्ञापन प्रकाशित किया गया था, जिसकी लिखित परीक्षा 06-01-2019 को संपन्न कराई गई। आरोप है कि इस भर्ती प्रक्रिया में आरक्षण के नियमों की बड़े पैमाने पर अवहेलना की गई। ओबीसी वर्ग को 27प्रतिशत आरक्षण की जगह इस भर्ती में मात्र 3.86प्रतिशत आरक्षण मिला। इसी तरह अनुसूचित जाति वर्ग को इस भर्ती में 21 प्रतिशत की जगह मात्र 16प्रतिशत आरक्षण मिला। अनारक्षित वर्ग की लगभग 15 हजार सीटों को एमआरसी प्रक्रिया द्वारा रोका जा रहा है। इस संबंध में राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग ने संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के सभी 75 जनपदों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों व एनसीईआरटी कार्यालय प्रयागराज व लखनऊ सचिव स्तर के सभी प्रमुखों को बुलाकर अंतरिम रिपोर्ट तैयार की ,जिसमें आरक्षण के नियमों से धांधली का खुलासा हुआ। इस अंतरिम रिपोर्ट को सरकार के पास भेजते हुए आयोग ने सरकार से इस संबंध में 15 दिन के भीतर अपना पक्ष रखने को कहा। अफसोस है कि महीना बीत जाने के बाद भी सरकार ने इस अंतरिम रिपोर्ट पर कोई जवाब नहीं दिया। आरक्षण घोटाले से परेशान एवं न्याय न मिलता देख 55 अभ्यर्थियों ने राज्यपाल से इच्छा मृत्यु की मांग की है,जो अत्यंत पीड़ादायक है। जिलाध्यक्ष पीतम सिंह ने ज्ञापन के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति से 69 हजार शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण नियमों का सही से अनुपालन सुनिश्चित कराने एवं आरक्षित वर्ग के छात्रों का भविष्य अधर में न डालने की गुहार लगायी है।

 204 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *