हर वर्ष की भांति 28मई को मनाया गया विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस

हर वर्ष की भांति 28मई को मनाया गया विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस

मासिक धर्म कोई अपराध नहीं, ब्लकि यह है एक सामान्य शारीरिक प्रक्रिया
बुलन्दशहर/खुर्जा।
एकेपी पीजी कॉलेज की एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी एकता चौहान ने बताया कि प्रत्येक वर्ष 28 मई को विश्व मासिक धर्म-स्वच्छता दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने की शुरुआत 2014 में हुई। इसे बनाने का मकसद यही है कि लड़कियों व महिलाओं को मासिक धर्म के उन खास दिनों में स्वच्छता और सुरक्षा के प्रति जागरूक किया जा सके। वहीं इस दिवस के मनाने का एक कारण यह भी है कि लोगों को इस ओर जागरूक किया जाए कि मासिक धर्म कोई अपराध नहीं, ब्लकि यह एक सामान्य शारीरिक प्रक्रिया है। वर्तमान में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के कारण ग्रामीण महिलाएं सेनिटरी पैड्स की कमी से जूझ रही हैं, इसलिए स्वयं सेविकाओं द्वारा आज मासिक धर्म स्वच्छता दिवस के अवसर पर सैनिटरी पैड्स का वितरण किया। महिलाओं से इस संबंध में खुलकर बातचीत भी की गई। कालेज की प्राचार्य डॉ0 शशि प्रभा त्यागी व सचिव डॉ0 धीरज सिंह ने स्वयं सेविकाओं की इस पहल की प्रशंसा की।साथ ही उनका उत्साहवर्धन किया।

 146 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *