स्वर्ण जयंती अस्पताल को बनाया जाएगा कोविड-19 हॉस्पिटल, 100 से अधिक बैड होंगे तैयार

स्वर्ण जयंती अस्पताल को बनाया जाएगा कोविड-19 हॉस्पिटल, 100 से अधिक बैड होंगे तैयार

जिला प्रशासन ने तैयार की रूपरेखा, अस्पताल में नहीं चलेंगी ओपीडी सेवाएं
मथुरा।
कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को लेकर जिला प्रशासन की चिंताएं और बढ़ गई हैं। जिला प्रशासन आपातकालीन व्यवस्था की तैयारियों में जुट गया है। जनपद में वर्तमान में उपलब्ध बैड के अतिरिक्त 500 बैड की व्यवस्था की जा रही है। इन अतिरिक्त बैडों के साथ ऑक्सीजन की उपलब्धता पर जोर दिया जा रहा है। इसके लिए डीएम नवनीत सिंह चहल और नगर आयुक्त अनुनय झा ने जिले के कई बड़े अस्पतालों का जायजा लिया। डीएम एवं नगर आयुक्त ने सोमवार को कोविड-19 के मरीजों को समुचित स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हो सके ,इसके लिए अस्पतालों में ऑक्सीजन बैड की संख्या बढ़ाने के लिए स्वर्ण जयन्ती अस्पताल का निरीक्षण गया। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 रचना गुप्ता, रिफाइनरी के महाप्रबंधक (मानव संसाधन) मानवेन्द्र देव शर्मा उपस्थित रहे। नगर वासियों की सुविधार्थ 104 ऑक्सीजन बैड कोविड हॉस्पिटल सात दिनों में प्रारंभ होगा, ओपीडी सेवाएं बन्द रहेंगी सिर्फ कोविड संक्रमितों का इलाज स्वर्ण जयन्ती में होगा। निरीक्षण के दौरान सम्पूर्ण अस्पताल में 104 ऑक्सीजन बैड की उपलब्धता कराये जाने हेतु प्रभारी को निर्देशित किया गया। इस अस्पताल में ओपीडी सेवा बंद कर कोविड सेवायें प्राथमिकता के आधार पर प्रारम्भ करने एवं सेन्ट्रल ऑक्सीजन सप्लाई व्यवस्था कराए जाने के लिए निर्देशित किया गया। अस्पताल में 100 बैड की क्षमता अनुरूप स्टाफ की तैनाती एवं आवश्यक उपकरणों व ऑक्सीजन आदि की व्यवस्था अस्पताल प्रबंधन द्वारा मथुरा रिफाइनरी के सहयोग से करायी जायेगी। अन्य सभी आवश्यकताएं निर्धारित समयावधि अंतर्गत पूर्ण कराये जाने के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया।

 316 total views,  4 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *