स्कूलों द्वारा कराई जा रही ऑनलाइन पढ़ाई का बच्चों के स्वास्थ्य पर गहरा असर

स्कूलों द्वारा कराई जा रही ऑनलाइन पढ़ाई का बच्चों के स्वास्थ्य पर गहरा असर

स्कूल/विद्यालय मनमानी करने पर उतारू, प्रशासन अनभिज्ञ
बुलन्दशहर।
आज सरकार के लगाए गए लॉकडाउन का फायदा स्कूल/विद्यालय उठा रहे हैं। स्कूल के खिलाफ आवाज उठाने के लिए वैश्य युवा संगठन के महामंत्री मोहित अग्रवाल ने कहा कि इस वैश्विक महामारी के चलते सरकार द्वारा चलित नियमांे के मुताबिक स्कूलों में ऑनलाइन क्लासेस शुरू की गई है, जिससे बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था सुचारू हो सके ,वरन उसी के चलते स्कूलों में हमेशा से ग्रीष्मकालीन अवकाश भी 15 मई से शुरू हो जाते है ,परंतु जनपद के कुछ प्राइवेट स्कूलों में वहीं ऑनलाइन क्लासेस अभी तक भी निरंतर चालू है ,जोकि मोबाइल या अन्य लैपटॉप के माध्यम से हो रही है ,जिससे कि बच्चों के स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ रहा है। बच्चों की आँखों पर देखने की क्षमता से परेशानी महसूस हो रही है। बच्चों को अब अवकाश मिल जाये तो कुछ आराम मिलेगा ,परंतु स्कूलों से अभिभावकों के आग्रह करने पर भी क्लासेस बन्द नही की जा रही है ,इसका उद्देश्य क्या हो सकता है? वह स्कूल मैनेजमेंट को पता होगा ,जिससे एक विशाल समस्या बन सकती है। अतः सरकार से अनुरोध है कि अविलम्ब इस तरफ ध्यान दिया जाए।वरना बच्चों का भविष्य के साथ साथ स्वास्थ्य भी चौपट हो सकता है।

 196 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *