सीएचसी डिबाई ने मनाया डॉक्टर्स डे

सीएचसी डिबाई ने मनाया डॉक्टर्स डे

डिबाई/बुलन्दशहर। कोरोना काल मे अपनी जिंदगी को दांव पर लगा कर जन सेवा करने वाले पृथ्वी के दूसरे भगवान यानी डॉक्टरों का योगदान इस वैश्विक महामारी में अत्यंत सराहनीय रहा है। इसी बीच 1जुलाई को पृथ्वी के भगवान यानी डॉक्टरों के विशेष दिन के तौर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डिबाई स्टाफ ने नेशनल डॉक्टर्स डे मनाया, जिसमें डॉ0 हेमंत गिरी, डॉ0 आनन्द स्यानन एवं डॉ0 प्रभात गौड़ द्वारा की गई सेवाओ के लिए सीएचसी डिबाई के समस्त स्टाफ के साथ बनस्थली विद्यापीठ राजस्थान से बी0फार्मा0 तृतीय वर्ष की छात्रा प्रेरणा गौड़ ने तालियों के साथ डॉक्टरों का सम्मान किया। इसी के साथ नेशनल डॉक्टर्स डे पर प्रकाश डालते हुए प्रेरणा गौड़ ने बताया कि भारत में एक जुलाई के दिन नेशनल डॉक्टर डे मनाया जाता है। यह खास दिन समाज में डॉक्टरों के महत्वपूर्ण योगदान को याद करने के लिए है। अपने देश में डॉक्टर को इंसान के रूप में भगवान की तरह देखा जाता है। डॉक्टर्स डे देश के डॉक्टरों के लिए अपनी कृतज्ञता व्यक्त करने का दिन है। इसी के साथ डॉक्टर्स डे पर जानकारी देते हुए फार्मा डी की अंतिम वर्ष की छात्रा शिवानी वार्ष्णेय ने बताया कि एक जुलाई को देश के महान डॉक्टर बिधानचंद्र रॉय की पुण्यतिथि भी होती है। इस दिन को उनकी याद के तौर पर भी मनाया जाता है इसी खास दिन को केंद्र सरकार ने 1991 में राष्ट्रीय डॉक्टर दिवस मनाने की शुरुआत की थी। डॉ. बिधानचंद्र रॉय देश के महान चिकित्सक होने के साथ-साथ पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री भी रहे हैं। उनकी इस पुण्यतिथि के दिन को बतौर नेशनल डॉक्टर्स डे के रूप में मनाया जाता है। सीएचसी डिबाई में की गई इस पहल एवं समस्त स्टाफ द्वारा किये गए डॉक्टरों के सम्मान के लिए डॉ हेमंत गिरी, डॉ आनंद स्यानन, डॉ प्रभात गौड़, डॉ प्यारेलाल राज, चीफ फार्मासिस्ट डॉ आर0वी0 राव, डॉ मनोज कुमार डेंटिस्ट आदि ने सभी स्टाफ का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में स्टाफ नर्स मधुबाला, बीना वर्मा, एएनएम दिव्या ज्योति, हिमेश लोधी, वार्डबॉय पवन कुमार, विकास कुमार एवं एलटी सचिन कुमार प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

 46 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *