सपा व्यापार सभा नेता ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर व्यापारी समाज को राहत देने की मांग की

सपा व्यापार सभा नेता ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर व्यापारी समाज को राहत देने की मांग की

मथुरा। समाजवादी पार्टी व्यापार सभा के अध्यक्ष अंकित वार्ष्णेय ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कोविड-19 की दूसरी लहर में लगे लॉकडाउन की वजह से प्रदेश के करोड़ों व्यापारी त्राहि-त्राहि कर रहे हैं। आज हर व्यापारी को विकट कठिनाईयों व समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। शायद ही कोई व्यापारी होगा ,जिसका परिवार इस दूसरी लहर में कोरोना से प्रभावित न हुआ हो। व्यापार बन्द है और इलाज का अभाव है। नोटबन्दी और जीएसटी से परेशान व्यापारी अभी तक सम्भला भी नहीं था कि एक वर्ष में दो बार लॉकडाउन ने तो व्यापारी की कमर ही तोड़ दी है। प्रदेश के करोड़ों बड़े, मध्यमवर्गीय व लघु व्यापारियों को हो रही समस्याओं व उनके जीवन यापन में आ रही कठिनाईयों को देखते हुए समाजवादी व्यापार सभा ने व्यापारियों के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री से तत्काल राहत देने की माँग की है। शासन, प्रदेश के सभी दुकानदारों के अप्रैल व मई ,2021 माह के बिजली बिल माफ करे। उद्योगों की कॉमर्शियल बिजली मीटर पर फिक्स्ड दर (मिनिमम चार्जेस) की जगह असल में हुई बिजली खपत का बिल ही वसूले। जीएसटी पंजीकृत, मंडी शुल्क देने वाले, रेहड़ी-ठेले में पंजीकृत सभी व्यापारियों, दुकानदारों आदि को मुफ्त मेडिक्लेम बीमा की सुविधा उपलब्ध कराई जाये। कोरोना की वजह से मृत्यु होने पर जीएसटी, मंडी परिषद या किसी भी विभाग में पंजीकृत व्यापारी के साथ-साथ अपंजीकृत व्यापारी जैसे कि ठेले वाले, पटरी वाले व रेहड़ी वालों की भी मृत्यु होने पर उनके परिवार को 10लाख का मुआवजा दिया जाये। मजदूरों व कमजोर वर्ग की तरह ठेले, पटरी, रेहड़ी वालों को भी शासन मुफ्त राशन की व्यवस्था करे। दुकान खुली मिलने पर पुलिस द्वारा व्यापारियों से अमानवीय व्यवहार की शिकायतें आ रही हैं, सरकार सुनिश्चित करे कि किसी भी व्यापारी व आमजन के साथ भी अमानवीय व्यवहार न हो। लॉकडाउन में व्यापारी को सप्ताह में दो दिन दुकान की सफाई व जरूरी कागजात निकालने की अनुमति दी जाए। सभी विभागों के रिटर्न दाखिल करने की अवधि बढ़ाई जाए। प्रदेश सरकार एनपीए की अवधि 90 दिन की जगह 180 दिन तथा व्यापारिक ऋण पर अप्रैल से मई माह का ब्याज माफ करने तथा बैंकों की किश्त पर मोरॉटोरियम की सुविधा देने का केंद्र सरकार से आग्रह करे। समाजवादी व्यापार सभा की मांगों पर सहानूभूतिपूर्वक विचार करते हुए व्यापारियों के हित में उचित निर्णय लेकर प्रदेश के करोड़ों व्यापारियों को राहत दे सरकार।

 208 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *