सटोरियों के खिलाफ भाकियू (किसान शक्ति) का ऐलान, नहीं होने देंगे सट्टा, जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

सटोरियों के खिलाफ भाकियू (किसान शक्ति) का ऐलान, नहीं होने देंगे सट्टा, जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

मुख्यमंत्री के नाम लिखे शिकायती पत्र में नगर के सफेदपोश कथित व्यापारियों को किया बेनकाब
बुलन्दशहर/डिबाई ।
सट्टे के खिलाफ जारी जंग में भारतीय किसान यूनियन (किसान शक्ति) ने भी मोर्चा खोल दिया है। डिबाई नगर सहित समूचे तहसील क्षेत्र से जुए, सट्टे एवं स्मैक के कारोबार की मिलने वाली शिकायतों के चलते भारतीय किसान यूनियन किसान शक्ति के राष्ट्रीय महा सचिव पंडित गजेंद्र शर्मा एवं उनके सहयोगी पदाधिकारियों ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम संबोधित ज्ञापित पत्र जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार को सौपा, जिसमें गजेंद्र शर्मा ने न सिफ डिबाई नगर में खुलेआम किये जा रहे सट्टा, जुआ एवं स्मैक के काले कारोबार का जिक्र किया ,बल्कि नगर के उन सफेदपोश कथित व्यापारियों का भी जिक्र किया है ,जो कहने को तो जूता, रेडीमेड, मोबाईल एवं कपड़ा जैसे सम्मानजनक व्यापार से जुड़े हैं ,लेकिन पर्दे के पीछे ये उक्त काले कारोबारों के सरगना हैं।
मामले पर जानकारी देते हुए गजेंद्र शर्मा ने बताया कि विगत काफी दिनों से डिबाई नगर के मौहल्ला काजी खेल, चौधरी खेल, मौहल्ला शाह विलात, मंडी हरदेव, नमक मंडी आदि इलाकों से सट्टे के काले कारोबार की खबरें मिल रही थी। जिनके विषय मे गहनता से जानकारियां जुटाने पर ज्ञात हुआ कि हमारा समाज इस सट्टे नुमा कैंसर से ही नही बल्कि जुआ एवं स्मैक के दंश को भी लगातार झेल रहा है। इसके विषय में और अधिक जानकारी जुटाने पर ज्ञात हुआ कि इन काले कारोबारों को कराने वाले वही सफेदपोश कथित व्यापारीगण हैं ,जो आम तौर पर स्थानीय पुलिस प्रशासन के साथ गाहे बगाहे थाने में तथा चौकी में देखने को मिल जाते हैं। ये न सिर्फ उन अधिकारियों से अपनी पैठ बढ़ाते हैं ,जो नवागुंतक हैं या कहें तो जो अधिकारी इनके विषय मे पर्याप्त जानकारी नहीं रखते, उनसे ये अपने सम्बन्ध स्थापित करने में प्रयासरत रहते हैं ,बल्कि उन पुलिसकर्मियों को सुविधा शुल्क से भी नवाजते हैं, जो इनके विषय मे भली भांति परिचित हैं। अतः पहले तो इनके रसूखात के चलते लोग शिकायत ही नही करते और यदि किसी ने कर भी दी तो स्थानीय पुलिस इनमें से किसी एक को पकड़ कर सट्टे की साधारण सी धारा में अभियोग पंजीकृत कर इतिश्री कर लेते हैं ,जिससे कोई सक्षम अधिकारी कुछ पूछ न बैठे। ज्ञात हो कि अभी बीते सप्ताह में डिबाई नगर के मौहल्ला काजी खेल निवासी लगभग ढाई दर्जन लोगों ने एसएसपी बुलन्दशहर सन्तोष कुमार सिंह को पत्र लिख कर डिबाई के काजी खेल मौहल्ले के रहने वाले रियासत नाम के सटोरिये की शिकायत की थी। जिसमे शिकायत कर्ताओं ने रियासत के अलावा चार अन्य लोगों को इस काले कारोबार का सरगना एवं संरक्षक बताया था। इसी शिकायती पत्र के माध्यम से मौहल्ला काजी खेल निवासियों ने ये भी स्पष्ट किया था कि कुछ ऐसे लोग जो कल तक सट्टे के अहम आरोपी रहे हैं आज वो सम्मानित समाचार पत्रों के नुमाइंदे बनकर इस सट्टा, जुआ एवं स्मैक गैंग के मददगार बने हुए हैं। हालांकि अभी एसएसपी सन्तोष कुमार सिंह से की गई शिकायत का विशेष असर देखने को नही मिला है। इसीलिए भारतीय किसान यूनियन ने इस सट्टा, जुआ एवं स्मैक कारोबार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।किसान यूनियन द्वारा दिये गए ज्ञापन को संजीदगी से लेते हुए जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने ज्ञापन में दिए गये सभी बिंदुओं पर शीघ्र एवं सख्त एक्शन लेने की बात कही है। डीएम को दिए गए इस ज्ञापन के समय राष्ट्रीय महासचिव गजेंद्र शर्मा के साथ-साथ अनिल गुप्ता टीआर, दिलीप गुप्ता भट्टे वाले एवं सुरेन्द्रपाल सिंह प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

 360 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *