संपूर्ण क्रांति दिवस पर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई

संपूर्ण क्रांति दिवस पर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई

शिकारपुर/बुलन्दशहर। संयुक्त किसान मोर्चा के आहवान पर संपूर्ण क्रांति दिवस के अवसर पर किसान सभा कार्यकर्ताओं ने कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई और आंदोलन को मजबूत करने का संकल्प लिया। किसान सभा के बैनर तले कस्बा शिकारपुर में बारह खम्भा के सामने हाईवे पर किसान सभा के कार्यकर्ता एकत्रित हुए और हाइवे को जाम लगा कर कृषि कानूनों की प्रतियां जलायीं। किसानों को संबोधित करते हुए किसान सभा के क्षेत्रीय मंत्री जय भगवान शर्मा ने कहा कि आज के दिन आपातकाल के खिलाफ बिहार में लोकनायक जयप्रकाश नारायण ने संपूर्ण क्रांति का नारा दिया था। यही वह आंदोलन था ,जिसने लोकतंत्र को कुचलने वाली ताकतों को सत्ता से उखाड़ कर संविधान का राज कायम किया था। किसान नेता मूलचंद त्यागी ने कहा कि विगत वर्ष इसी दिन मोदी सरकार संविधान को ताक पर रखकर कृषि अध्यादेश लाई थी।यही अध्यादेश बाद में संसद की मर्यादा को तहस-नहस करके कानून बना दिए गए। इन्हीं कानूनों के खिलाफ पूरे देश में किसान आंदोलन कर रहे हैं। इस प्रकार कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन मोदी सरकार की तानाशाही के विरुद्ध संविधान की रक्षा का भी आंदोलन है। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं ने कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई। मूलचंद त्यागी, मांगेराम, श्रीकृष्ण शर्मा,हाजी नासिर,इमरान, करण सिंह, साबिर,यादराम सिंह जितेंद्र सिंह, हरपाल सिंह, लख्मी सिंह, सुखपाल सिंह, हरिदास हाकिम सिंह, अनुज कुमार नरवीर सिंह, सतपाल सिंह ने आंदोलन में भाग लिया। दूसरी ओर किसान सभा के नेता बच्चू सिंह के नेतृत्व में मामउ,में ,दरवेशपुर, नगला फत्तापुर, बोहिच,आदि गांवों के किसानों ने सम्पूर्ण क्रान्ति दिवस मनाया। और सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए काले कृषि कानूनों की प्रतियां जलायीं।इस अवसर पर धर्मेंद्र सिंह, वीरपाल सिंह वीरेंद्र सिंह श्रीपाल सिंह, रणवीर सिंह, समय सिंह सीमा देवी,मोहित शर्मा, गुड्डू सिंह, रामकौर,प्रेमपाल सिंह, लोकेश सिंह, प्रेमवीर सिंह आदि ने भाग लिया।

 86 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *