शासन के निर्देश पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला टास्क फोर्स गठित

शासन के निर्देश पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला टास्क फोर्स गठित

टास्क फोर्स कोविड-19 महामारी में परित्यकत, अनाथ, परिवार विहीन अथवा देखरेख व संरक्षण में बच्चों का रखेगी ध्यान
बुलन्दशहर।
कोविड-19 महामारी से प्रभावित बच्चों की निगरानी एवं सरंक्षण हेतु आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु प्रमुख सचिव उत्तर प्रदेश शासन महिला एवं बाल विकास अनुभाग-1 के शासनादेश द्वारा 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों की निगरानी संरक्षण हेतु जनपद स्तर पर जिला टास्क फोर्स गठित किये जाने के निर्देश दिये गये है। उक्त निर्देशों के क्रम में जनपद बुलन्दशहर में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला टास्क फोर्स का गठन किया गया है, जिसमें जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, अध्यक्ष बाल कल्याण समिति, जिला प्रोबेशन अधिकारी/जिला बाल संरक्षण अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, केन्द्र प्रशासक वन स्टॉप सेन्टर नामित। दिनांक 17.05.2021 को रविन्द्र कुमार ,जिलाधिकारी की अध्यक्षता में उक्त टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जिला टास्क फोर्स के समस्त पदाधिकारीगण उपस्थित रहे। बैठक में कोविड-19 महामारी के दौरान परित्यकत, अनाथ, परिवार विहीन अथवा देखरेख व संरक्षण की स्थिति में आने वाले बच्चों का संज्ञान लेते हुये संबंधितों द्वारा आवश्यक कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये। बैठक में जिलाधिकारी  द्वारा बताया गया कि वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण के प्रभाव से ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता की कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु हो गयी है, जिन्हें आर्थिक रूप से समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है,ऐसे बच्चों के लिये उक्त समिति संबंधित स्टेक होल्डर से समन्वय स्थापित करते हुये बालकों के समस्या समाधान एवं पुनर्वासन हेतु आवश्यक कार्यवाही करेगी। दुर्भाग्यवश कई अपराधिक तत्व ऐसी स्थितियों का लाभ भी उठाने हेतु सक्रिय हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान परित्यक्त, अनाथ, परिवार विहीन अथवा देखरेख व संरक्षण की स्थिति में आने वाले बच्चों को अपराधी तत्वों से बचाने हेतु शासन के निर्देश पर बच्चों के पुनर्वास हेतु, अनाथ बच्चों की सूचना उपलब्ध कराने हेतु निम्नलिखित मोबाइल नम्बरों पर दी जा सकती है- 1.जिला प्रोबेशन अधिकारी, बुलन्दशहर  7518024003, 2. बाल कल्याण समिति -9412632352, 3. वन स्टाप सेन्टर, -8979996328, 4. जिला बाल संरक्षण इकाई 9897662730, 9458233900 एवं 9410284415, तथा उक्त के अतिरिक्त 181 महिला हेल्पलाइन एवं 1098 चाईल्ड हेल्प लाइन पर अनाथ एवं परिवार से बिछडे हुये बच्चों के बारे में एवं कोई भी व्यक्ति अवैध रूप से बच्चों को गोद लेने-देने या महिलाओं की तस्करी संबंधी पेशकश करता है उसकी सूचना दे सकते हैं। उक्त हेतु चाइल्ड लाइन, महिला सहायता प्रकोष्ठ, विषेश किशोर पुलिस इकाई/बाल कल्याण पुलिस अधिकारी/स्थानीय पुलिस के साथ समन्वय कर तत्काल कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये। बैठक में अभिषेक पाण्डेय मुख्य विकास अधिकारी, विनीत कुमार तिवारी प्रभारी जिला प्रोबेशन अधिकारी, हरिओम वाजपेयी जिला कार्यक्रम अधिकारी, डॉ0 भूपेन्द्र सिंह सदस्य बाल कल्याण समिति, रूचिका देवी केन्द्र प्रशासक वन स्टॉप सेन्टर एवं अशोक कुमार विधि सह परिवीक्षा अधिकारी उपस्थित रहे।

 260 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *