शादी अनुदान की धनराशि दिलाने के नाम पर आ सकती है फ्रॉड कॉल, रहे सतर्क

शादी अनुदान की धनराशि दिलाने के नाम पर आ सकती है फ्रॉड कॉल, रहे सतर्क

अज्ञात व्यक्ति द्वारा लखनऊ से योजना का लाभ दिलाने के नाम पर कॉल का न करें विश्वास
कोई भी समस्या होने पर विभागीय कार्यालय पर करें संपर्क
बुलन्दशहर।
जनपद के पिछड़ा वर्ग विभाग द्वारा संचालित पिछड़ी जाति (अल्पसंख्यक पिछड़े वर्ग को छोड़कर) पुत्री शादी अनुदान योजना अंतर्गत आवेदक द्वारा शादी अनुदान डॉट यूपी एस डीसी डॉट गवर्नमेंट डॉट इन साइड पर अपना पुत्री शादी हेतु अनुदान के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के उपरांत समस्त वांछित प्रपत्रों सहित संबंधित उपजिलाधिकारी/खंड विकास अधिकारी कार्यालय में जमा किये जाने का प्रावधान है। उपजिलाधिकारी/खण्ड विकास अधिकारी के सत्यापन एवं अधोहस्ताक्षरी अभिलेखीय परीक्षण के उपरांत पात्र पाये गए आवेदकों को जिला स्तरीय स्वीकृति समिति के अनुमोदन के उपरांत धनराशि रुपए 20000 प्रति पुत्री शादी कोषागार के ई- कुबेर पोर्टल के माध्यम से सीधे लाभार्थी के संचालित बैंक खाते में अंतरित किए जाते हैं। विभिन्न आवेदकों के से प्राप्त अभिलेखों के अनुसार अधोहस्ताक्षरी के संज्ञान में आया है कि समाज कल्याण विभाग/ पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग उत्तर प्रदेश लखनऊ से संबंधित अज्ञात व्यक्ति द्वारा योजना का लाभ दिलाने के नाम पर समय-समय पर अवैध धनराशि मांग किए जाने की शिकायत निरंतर प्राप्त हो रही है उक्त के संबंध में जनपद में कार्यरत प्राधिकारी साइबर सेल पुलिस पुलिस लाइन बुलंदशहर को आवश्यक कार्रवाई हेतु अवगत कराने के साथ-साथ आवेदकों को साइबर सेल विभाग में समस्त वांछित साक्ष्यों सहित शिकायत दर्ज कराने हेतु निर्देश दिए गए है।विभागीय अधिकारी का कहना है कि जनपद के  साइबर क्राइम उक्त कृत्यों से अधोहस्ताक्षरी कार्यालय का कोई संबंध नहीं है आवेदकों को साथ यह भी सलाह दी जाती है कि इस तरह के फ्रॉड कॉल पर विश्वास न करें और यदि कोई अज्ञात व्यक्ति अवैध धन की मांग करता है तो अपनी शिकायत साक्ष्यों सहित कार्यालय साइबर सेल पुलिस लाइन बुलंदशहर में दर्ज कराएं।

 46 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *