यूपीसीडा ने औद्योगिक, वेयर हाउसिंग एवं गोदामों के लिए बढ़ायी फ्लोर एरिया रेशियो की सीमा-क्षेत्रीय प्रबंधक

यूपीसीडा ने औद्योगिक, वेयर हाउसिंग एवं गोदामों के लिए बढ़ायी फ्लोर एरिया रेशियो की सीमा-क्षेत्रीय प्रबंधक

मेरठ। क्षेत्रीय प्रबंधक उ0प्र0 राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण सतीष कुमार ने बताया कि औद्योगिक इकाइयों के हितों को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) ने अपने औद्योगिक क्षेत्रों के औद्योगिक, वेयर हाउसिंग और गोदामों के लिए भूखंडों का क्रय योग्य फ्लोर एरिया रेशियो (एफएआर) की अधिकतम सीमा को 66 प्रतिशत तक बढ़ा दिया है।
उन्होने बताया कि पूर्व में 07 अप्रैल 2021 से प्रभावी व्यवस्था में परिवर्तन करते हुए प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी मयूर माहेश्वरी के कार्यालय आदेश के अनुसार ये संशोधन तत्काल प्रभाव से लागू किए गए हैं। पहले औद्योगिक, वेयर हाउसिंग और गोदाम के लिए 18मीटर की चौड़ी सड़क पर स्थित भूखंडों पर अधिकतम क्रय योग्य एफ0ए0आर0 1.5 था, जो अब नई व्यवस्था के तहत औद्योगिक, वेयर हाउसिंग और गोदाम के लिए बढ़ाकर अधिकतम 2.5 तक कर दिया गया है। इसी तरह 18 मीटर से अधिक चौड़ी सड़कों पर स्थित औद्योगिक, वेयर हाउसिंग और गोदाम के भूखंडों का अधिकतम क्रय योग्य एफ0ए0आर0 पहले 2.0 था, जिसे बढ़ाकर अब अधिकतम 2.5 तक कर दिया गया है। उन्होने बताया कि यूपीसीडा द्वारा क्रय योग्य एफ0ए0आर0 बढ़ाये जाने से उद्यमियों को अपने वर्तमान भूखण्ड पर ही अपने कार्यों के विस्तार हेतु अतिरिक्त जगह उपलब्ध हो जाएगी। उद्यमियों को यूपीसीडा द्वारा लिए गए इस निर्णय से राहत मिलेगी। इस एफ0ए0आर0 से ऐसे उद्योग जिनको अपने क्रियोओं के संचालन हेतु अधिक निर्मित क्षेत्र की आवश्यकता होती हैं। जैसे फार्मा, बायोटेक उद्योग तथा अधिक श्रमिकों वाली इकाइयों को कम कीमत पर अपने उद्योग चलाने में सहायता मिलेगी।

 42 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *