मुस्लिम समाज के लोगों ने एक हिन्दू भाई का पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार किया

मुस्लिम समाज के लोगों ने एक हिन्दू भाई का पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार किया

इस कार्य से हिंदू- मुस्लिम एकता की मिसाल कायम की
अनूपशहर/बुलन्दशहर।
सोमवार को अनूपशहर के सर्राफा व्यापारी अनिल जैन उर्फ भोंपू दो महीने पहले फालिस गिरने से बीमार हो गये थे। परिजनों ने उनकी बीमारी की देखभाल नहीं की। अनूपशहर के नजदीक ग्राम शेरपुर बांगर अपने दोस्त फजरूद्दीन मेवाती व उनके परिवार ने बीमारी का इलाज कराया और सुनील जैन उर्फ भोंपू की सोमवार को सुबह शेरपुर बांगर में मृत्यु हो गई। फजरूद्दीन ने अनूपशहर में रहने वाले उनके परिवार को खबर दी। परिवार में से छोटे भाई पंकज जैन शेरपुर बांगर पहुंचे और उनके अंतिम संस्कार करने का फैसला किया और मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा ही उनका दाह संस्कार किया गया।कहते तो यह है कि हमेशा बुरे वक्त में अपने साथ देते है, मगर आज कुछ उलटा ही हो रहा है कि अपने तो केवल धन दौलत के साथ है, लेकिन जिन्हें हम गैर कहते है, आज वो ही अंतिम समय में काम आये, इस अंतिम क्रिया को करके मुस्लिम समाज ने हिंदू-मुस्लिम एकता व भाईचारे की मिसाल पेश की है। जिसकी चहु ओर चर्चा हो रही है। बताया जाता है कि अनूपशहर मस्तराम घाट पर गंगा में स्नान कराकर अंतिम संस्कार किया गया। इस अवसर पर ग्राम प्रधान हसमुद्दीन, फजरूद्दीन मेवाती, बब्लू, अमीरुद्दीन, आलम खां, इकबाल मुल्लाजी, हसमुद्दीन खां, रमजानी, यूनिस मलिक, टीटी मंगोढ़े वाले, पहलवान यूसुफ मलिक, उनके छोटे भाई पंकज जैन मौजूद रहे

 394 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *