मुर्दो के वस्त्रों को दुकानों पर बेचकर कोरोना संक्रमण फैलाने वाले गिरफ्तार

मुर्दो के वस्त्रों को दुकानों पर बेचकर कोरोना संक्रमण फैलाने वाले गिरफ्तार

शमशान घाट और कब्रिस्तान में सबसे ज्यादा लाशें कोरोना संक्रमितों की पहुॅच रही
जिन कपड़ों के साथ दुकानदारों ने ये कपड़े रखें और जिनको बेचे ,उनके कोरोना संक्रमित होने की प्रबल संभावना
बुलन्दशहर/बागपत।
बड़ौत पुलिस ने कोरोना संक्रमण फैलाने वाले सात ऐसे अपराधियों को गिरफ्तार किया है ,जिनके द्वारा जाने-अनजाने में कोरोना संक्रमण को फैलाया जा रहा था।पुलिस के अनुसार ये लोग शमसान घाट व कब्रिस्तान से मुर्दो के कफन और वस्त्र एकत्रित कर उनको दोबारा अच्छी तरह पैकिंग करके बाजारों में दुकान पर बेच देते थे। जैसे ही बड़ौत पुलिस को इस बारे में पता चला उन्होने इस गिरोह को धर दबोचा। पुलिस ने कार्यवाही करते हुए सात अभियुक्तों प्रवीण, आशीष उर्फ उदित, श्रवण, ऋषभ, राजू, बबलू और शाहरूख को गिरफ्तार कर लिया। 6 अपराधी बड़ौत के और एक अपराधी छपरौली क्षेत्र का रहने वाला है। अभियुक्तों से मुर्दो पर डालने वाली सफेद और पीले रंग की 520 चादरें, 127 कुर्ते, 140 सफेद कमीज, 34 सफेद धोती, 12 रंगीन गर्म शॉल, महिलाओं की 52 कलर धोतियां, 3 रिबन के पैकेट, 158 रिबन ग्वालियर मार्का, 1 टेप कटर, 112 ग्वालियर कम्पनी के स्टीकर बरामद हुए है। देश में कोरोना महामारी से हर रोज मौते हो रही है। शमशान घाट और कब्रिस्तान में वर्तमान में सबसे ज्यादा लाशें कोरोना से संक्रमित लोगो की ही पहुॅच रही है। ऐसे में इन अपराधियों द्वारा कोरोना संक्रमित लोगों के कपड़ों को फिर से नई पैकिंग में बाजारों में दुकानो पर बेचा जाना बहुत ही गंभीर अपराध है। दुकानदार ने ये कपड़े जिन कपड़ों के साथ रखें व जिन लोगों को बेचे ,उनके कोरोना संक्रमित होने की प्रबल संभावना है। इस बात सें इंकार नही किया जा सकता। जनपद बागपत में इस प्रकार के और कितने गिरोह सक्रिय है और इन अपराधियों द्वारा यह कपड़े और कहॉं-कहॉं बेचे गये है। पुलिस इसकी छानबीन में लग गयी है।

 434 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *