मनरेगा में घोटाले के आरोपों की जांच की, ग्राम प्रधान रहा अनुपस्थित

मनरेगा में घोटाले के आरोपों की जांच की, ग्राम प्रधान रहा अनुपस्थित

न तो जिला परियोजना अधिकारी ने इस ओर ध्यान दिया और न हीं ग्राम सचिव ने
बुलन्दशहर।
विकास खंड ऊंचागांव के गांव रघुनाथपुर में मनरेगा कार्य में लाखों रुपए के घोटाले के आरोपों की जांच के लिए जिला स्तरीय टीम गांव पहुंची और मामले की जांच पड़ताल में जुट गयी। गांव रघुनाथपुर निवासी सादिक राणा पुत्र मासूम अली ने गांव में मनरेगा कार्याे में लाखों रुपए का घोटाले का आरोप लगाकर जिलाधिकारी से मामले की शिकायत की थी। आरोपों की जांच करने के लिए बुधवार को मनरेगा के जिला परियोजना अधिकारी विनय श्रीवास्तव,पुलिस फोर्स के साथ गांव में पहुंचे और शिकायतकर्ता सादिक राणा व मनरेगा मजदूरों को मौके पर बुलाकर पूछताछ की। जिला परियोजना अधिकारी विनय श्रीवास्तव ने मनरेगा कार्य में ड्यूटी पर दर्शाए गए कुछ नाम बोले और ग्रामीणों से पूछा कि यह लोग विद्युत घर में संविदा कर्मी तैनात है तो ग्रामीणों ने हां में जवाब दिया। मनरेगा कार्य में ड्यूटी पर दर्शाए गए गांव से बाहर रह रहे तथा एक ही नाम के कई कार्ड वाले अधिकतर लोगों के बारे में भी ग्रामीणों ने आरोपों को सही बताया। जब कार्य करने में अक्षम लोगों के आरोपों के संबंध में पूछा तो बताया कि उनके स्थान पर उनके परिजन ने मनरेगा में कार्य किया है। वही जिस तालाब को दर्शा कर कार्य दिखाया गया है ,वहां मौके पर तालाब मौजूद ही नहीं था। शिकायत के आधार पर मनरेगा में दर्शाए गए कार्य की जगह पर भी पहुंचकर जांच पड़ताल की।
तत्कालीन सचिव को भी मौके पर बुलाया
गांव में मनरेगा कार्य में घोटाले के आरोपों के दौरान ही ग्राम सचिव का तबादला हो गया था। आरोपों की जांच करने के लिए जिला परियोजना अधिकारी ने तत्कालीन ग्राम सचिव को भी मौके पर रघुनाथपुर गांव में बुला लिया तथा ग्रामीणों के सामने ही पूछताछ की। तालाब के लिए पानी का रास्ता न होने पर जेई पर भड़क गए जिला परियोजना अधिकारी। जांच के दौरान गांव के बाहर तालाब में मनरेगा से कराई गई साफ-सफाई को देखने के लिए जिला परियोजना अधिकारी मौके पर पहुंचे। किंतु तालाब के लिए पानी का रास्ता न होने पर परियोजना अधिकारी जेई पर भड़क गए और सस्पेंड कराने की हिदायत दे डाली। परियोजना अधिकारी ने बताया कि मनरेगा कार्याे में घोटाले की शिकायत पर गांव रघुनाथपुर में जांच की है, कुछ आरोप सही पाए गए हैं और कुछ झूठे। मामले की जांच की जा रही है ,जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

 122 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *