भाजपा ने झूठे वादों से बनाई सरकार-शिवपाल यादव

भाजपा ने झूठे वादों से बनाई सरकार-शिवपाल यादव

आज तक काला धन नहीं लाए, 15-15 लाख नहीं दिए, निजीकरण से देश को बेरोजगार बना दिया
बोले-समाजवादी पार्टी ने विलय नहीं किया तो अन्य पार्टी के साथ गठबंधन से चुनाव लड़ेगी प्रसपा (लोहिया)
परिवर्तन यात्रा के क्रम में बुलन्दशहर आये थे शिवपाल यादव, भाजपा को जमकर कोसा
गुलावठी/बुलन्दशहर
। परिवर्तन यात्रा के तीसरे पड़ाव में बुलन्दशहर के सिकन्द्राबाद पहुंचे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव का पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया। बुलन्दशहर-मेरठ हाईवे पर बराल पुलिस चौकी के निकट सिकन्द्राबाद मोड़ पर उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार पर जमकर प्रहार किये। उन्होंने कहा-बीजेपी ने चुनाव से पहले वादा किया था कि वह विदेशों से काला धन लेकर आएंगे। लेकिन आज तक काला धन नहीं लाये। भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार में कई गुना वृद्धि हो गई। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार की नीतियों और विभागों के निजीकरण के कारण देश में बेरोजगारी हो गई। पेट्रोल-डीजल घरेलू गैस समेत सभी प्रकार के ईंधनों के दामों में भारी वृद्धि कर दी। गेहूं, धान, गन्ना आदि फसलों के रेट बढ़ने चाहिए थे, लेकिन सरकार ने किसानों की फसलों के उचित मूल्य नहीं लगाया। शिवपाल यादव ने तंज कसते हुए कहा भाजपा सरकार ने देशवासियों को हर व्यक्ति के खाते में 15लाख रुपए देने का वादा किया था, लेकिन आज तक नहीं दिए। झूठे वादे करके सरकार बना ली। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, का भी झूठा नारा दिया। कार्यकर्ताओं ने शिवपाल यादव की सभा में भीड़ जुटाने के लिए रागनियों का भी कार्यक्रम कराया गया था।
बोले-हमारी सरकार बनी तो वादे पूरे होंगे
सभा को संबोधित करते हुए प्रसपा (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने वायदा किया। अगर हम सत्ता में आए तो हमारे द्वारा किए गए सभी वादे पूरे होंगे। सभी को सम्मान मिलेगा। नारी शक्ति को सुरक्षा मिलेगी। प्रदेश भ्रष्टाचार मुक्त होगा। सभी सरकारी दफ्तरों में जनता की सुनवाई और कार्रवाई होगी। इस सरकार में झूठे मुकदमे लगवाकर लोगों को जेल भिजवा दिया। लेकिन हमारी सरकार में जो झूठे मुकदमे लिखायेगा, उसपर कार्रवाई होगी।
सपा में विलय नहीं हुआ तो गठबंधन से लड़ेंगे चुनाव
शिवपाल यादव ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि वह समाजवादी पार्टी में ही रहना चाहते थे। लेकिन परिस्थितियों के कारण उन्हें अलग पार्टी बनानी पड़ी। अगर सपा का विलय नहीं हुआ तो वह अन्य पार्टियों के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ेंगे। किस पार्टी से गठबंधन करेंगे। इस सवाल पर उन्होंने कहा यह राजनीति का हिस्सा है, अभी यह नहीं बताएंगे। समय आने पर सब कुछ जनता के सामने होगा।
हम चाहते तो पहले ही मुख्यमंत्री बन जाते
शिवपाल यादव ने कहा-हमने 2003 में 40 विधायक तोड़कर नेता जी को मुख्यमंत्री बना दिया था। अगर हमें स्वार्थ होता तो हम खुद ही बन जाते। उसके बाद 2012 में हम जिद पर अड़ जाते तो नेताजी (मुलायम सिंह यादव) मुख्यमंत्री बनते या फिर हम खुद बन जाते।
बातचीत नहीं हो पा रही वरना हो जाता समाधान
प्रेस वार्ता में शिवपाल यादव बोले-अखिलेश यादव के साथ बात नहीं हो पा रही। नहीं तो अब तक इस रार का समाधान हो जाता। हम तो बातचीत और समाधान के लिए तैयार हैं। वो बात नहीं कर रहे। बिना नाम लिए उन्होंने मुलायम सिंह यादव के लिए कहा- नेताजी ने कहा है अगर अखिलेश यादव नहीं माने तो नेताजी उनकी पार्टी का प्रचार करेंगे और उन्हीं को चुनाव लड़ाएंगे।

 52 total views,  4 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *