बुखार से तप रहा गांव बरहाना, 15किलोमीटर दूर जाकर मिल रही स्वास्थ्य सेवा

बुखार से तप रहा गांव बरहाना, 15किलोमीटर दूर जाकर मिल रही स्वास्थ्य सेवा

प्रशासन का इस गांव की ओर कोई ध्यान नहीं
बुलन्दशहर/स्याना।
बुगरासी क्षेत्र का बरहाना ग्राम पंचायत ,चुनाव के बाद से बुखार में तप रहा है। बीते एक महीने के अंदर गांव के सात लोगों की जान कोरोना संक्रमण से चली गई। कोरोना की जांच के लिए करीब छः हजार की आबादी वाले इस गांव के लोगों को 15किलोमीटर का सफर तय करके स्याना सीएचसी जाना पड़ता है। ग्राम पंचायत बरहाना से तीन किलोमीटर दूर बुगरासी मेें एक प्राइमरी हेल्थ सेंटर है ,जिस पर आसपास के करीब 17 गांवों के लोगों के इलाज का जिम्मा है। पंचायत चुनाव के नामांकन, प्रचार और मतदान के बाद तक चली प्रक्रिया में क्षेत्र के गांवों में सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार हो गई। गांव के लोगों का बाहर आना-जाना भी बढ़ा, इसका परिणाम यह हुआ कि इन दिनों बरहाना गांव के घर-घर में बुखार के मरीज हैं। बीमार हो रहे लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं भी नहीं मिल पा रहीं है।
एक डॉक्टर के जिम्मे पीएचसी
बुगरासी पीएचसी पर एकमात्र प्रभारी चिकित्सक डॉ0 कृष्णा तैनात हैं। इनके साथ एक फार्मासिस्ट, एक वार्ड ब्वॉय, एक एएनएम, एक हेल्थ सुपरवाइजर और एक स्वीपर है।
ग्रामीण अनुज कुमार का कहना है कि अब तक गांव में सात मौत हो चुकी है, फिर भी जांच नहीं हो रही। कई लोगों को बुखार व खांसी की समस्या है। बुगरासी पीएचसी पर कोविड जांच के लिए कोई सुविधा नहीं है। इसके लिए लोगों को स्याना सीएचसी जाना पड़ता है।
शुभम त्यागी का कहना है कि गांव में वक्सीनेशन जरूरी है। कोविड महामारी से बचाव के लिए हमें खुद अपनी सुरक्षा करनी होगी। इसके साथ ही प्रत्येक व्यक्ति को वैक्सीन लगवाने के लिए भी आगे आना होगा।यदि किसी व्यक्ति को परेशानी है तो बिना डरे ,उसकी जांच कराते हुए उपचार कराना होगा।
खेमराज त्यागी ने बताया कि खुद भी सावधानी रखनी होगी। गांव के प्रत्येक व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। समय पर अपनी जांच कराने, टीका लगवाने और गाइडलाइन का पालन करके हम देश को बचाने में अपना योगदान दे सकते हैं।
विधायक देवेंद्र सिंह लोधी ने बताया कि लोगों को जरूरत है तो मैं तैयार हूं। क्षेत्र में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए प्रशासनिक अधिकारियों से लगातार वार्ता की जा रही है। ऑक्सीजन प्लांट के लिए भी अपनी निधि से फंड देने के लिए डीएम को पत्र लिखा है। क्षेत्र के लोगों को यदि मेरी जरूरत है तो मैं हमेशा तैयार हूं।
डॉ0 कृष्णा, बुगरासी पीएचसी प्रभारी ने कहा कि आदेश पर ही शिविर लगते हैं। पीएचसी पर कोविड जांच की सुविधा नहीं दी गई है। इसके लिए लोगों को स्याना सीएचसी पर ही जाना पड़ता है। यदि किसी भी गांव में शिविर लगाने के आदेश मिलते हैं तो उनका पालन करते हुए शिविर लगाया जाता है।
ग्राम प्रधान संजीव उर्फ टीटू भैया ने कहा है कि गांव में सेनिटाइजेशन का कार्य कराऐंगे। गांव को सेनिटाइज कराने के लिए भी तैयारी की जा रहीं है। लोगों को मास्क पहनने के लिए भी जागरुक किया जा रहा है। महामारी को हराने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को गाइडलाइन का पालन करना होगा। गांव में स्वास्थ्य शिविर लगाकर लोगों की कोविड जांच कराई जायेगी।
बरहाना में माह भर में इनकी गई जान
अनिल त्यागी, अशोक त्यागी, मलखान चौहान, जगवती देवी, मिथलेश देवी, बिजेंद्री देवी, प्रियंका त्यागी।

 274 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *