प्रधान प्रत्याशी ने पुनः मतगणना की गुहार लगाई

प्रधान प्रत्याशी ने पुनः मतगणना की गुहार लगाई

राज्य निर्वाचन आयोग सहित डीएम, एसडीएम को भी किया मेल
डिबाई/बुलन्दशहर।
कहा जाता है कि जीत-हार एक वोट की भी होती है, लेकिन जब कोई मात्र एक वोट से हारता है तो उसके दिल का क्या हाल होता है? इसका अंदाजा भी लगाना बहुत मुश्किल है और तब शुरू होता है शिकायतों का दौर। ऐसा ही घटनाक्रम डिबाई ब्लॉक के ग्राम राजघाट में हुआ, जहां डिबाई ब्लॉक के ग्राम राजघाट में प्रधान पद प्रत्याशी कन्हैया ने एक शिकायती पत्र के माध्यम से न सिर्फ तहसील एवं जिला स्तरीय बल्कि राज्य निर्वाचन अधिकारी को भी बजरिये मेल एक शिकायत दर्ज कराते हुए डिबाई ब्लॉक पर नियुक्त किये गए आरओ पर आरोप लगाया कि आरओ डिबाई रोहित कुमार ने हारे हुये प्रत्याशी द्वारा पुनः मतगणना की मांग को न सिर्फ ठुकरा दिया बल्कि प्रत्याशी को बेइज्जत भी किया। पीडि़त प्रत्याशी के अनुसार कन्हैया ने ग्राम राजघाट से प्रधान पद के लिए चुनाव लड़ा था, जिसकी मतगणना 02मई को डिबाई के एक इंटर कॉलेज में हुई, जिसके चलते निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से माइक पर एनाउंस कराया गया कि कन्हैया अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी ओमवीर से 72 वोट से आगे चल रहे हैं,जिसे मेरे अलावा मतगणना स्थल पर मौजूद कई लोगों ने सुना। परन्तु फिर कुछ देर बाद मेरे निकटतम प्रतिद्वंद्वी को एक वोट से जीता हुआ घोषित कर दिया गया। अपने आरोप को आगे बढ़ाते हुए कन्हैया ने बताया कि मैंने चुनाव प्रक्रिया के अंतर्गत आरओ से पुनः मतगणना का निवेदन किया, जिस पर आरओ ने प्रत्याशी को पुलिस द्वारा बाहर निकलवा दिया और प्रत्याशी द्वारा आपत्ति दर्ज कराने पर भी ओमवीर को विजयी घोषित करते हुए उनको प्रमाण पत्र जारी कर दिया। इस आरोप के साथ पीडि़त कन्हैया ने न सिर्फ एसडीएम डिबाई मोनिका सिंह, जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी रविन्द्र कुमार के साथ-साथ मुख्यमंत्री एवं प्रदेश निर्वाचन आयुक्त से भी अपनी शिकायत की है।

 1,108 total views,  4 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *