पारस हॉस्पिटल प्रकरणः- आगरा के पारस हॉस्पिटल में सिसकियों के साथ 22 जनों ने तोड़ा दम

पारस हॉस्पिटल प्रकरणः- आगरा के पारस हॉस्पिटल में सिसकियों के साथ 22 जनों ने तोड़ा दम

क्या धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर इतने निर्दयी हैं?
डॉक्टर के खिलाफ व्यापारियों ने एक और शिकायत कराई दर्ज
आगरा।
धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर मरीज के इलाज के लिए लाखों रुपया लेने के बाद भी ऑक्सीजन की दम घोटू मोकड्रिल के वीडियो वायरल से लोगों की रूह कांपने लगती है। न्यू राजा मंडी के चेन व्यापारी सौरभ अग्रवाल ने पारस अस्पताल के डॉक्टर व कर्मचारियों के खिलाफ हत्या की शिकायत का प्रार्थना पत्र मुख्यमंत्री, एसएसपी और थाना न्यू आगरा को भेजा है। उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना संक्रमण से पीडि़त उनकी पत्नी की ऑक्सीजन बंद कर हत्या कर दी गयी। शिकायत करने पर डॉक्टर और कर्मचारियों ने मारपीट की धमकी दी।सौरभ अग्रवाल ने अपनी पत्नी को श्री पारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। पत्नी के इलाज में लगभग तीन लाख रुपए भी खर्च किए थे।आरोप है कि उनकी पत्नी के इलाज में घोर लापरवाही की गई। मोकड्रिल के नाम पर 27 अप्रेल को ऑक्सीजन बंद कर उनकी हत्या कर दी गयी ,जिसकी जानकारी उन्हें सुबह 6 बजे दी गयी। सौरभ अग्रवाल ने डॉक्टर अरिंजय जैन से शिकायत की तो उन्होंने धमकी देकर चुप कर दिया ,क्योंकि उनके पास कोई सबूत नहीं था। वीडियो वायरल होने के बाद आरोपियों की करतूत का खुलासा हुआ। आरोपियों ने इलाज न करके उनकी दो बच्चों की माँ की हत्या कर दी।
जिला प्रशासन ने पारस हॉस्पिटल की फाइलें भी जब्त की
पारस हॉस्पिटल का मामला शासन तक पहुँचने के बाद मंगलवार को डीएम प्रभु एन सिंह, एसएसपी मुनिराज पूरे अमले के साथ पारस हॉस्पिटल पहुँचे और रिकार्ड देख कर जरुरी फाइलें जब्त करायीं। ऑक्सीजन की दम घोंटू मोकड्रिल वीडियो के वायरल होने के बाद जिला प्रशासन ने रिकार्ड से छेड़छाड़ की आशंका पर चार दिन भर्ती हुए मरीजों की फाइलें जब्त की हैं। 26अप्रेल की रात 96 मरीज भर्ती थे। 27 और 28 अप्रेल को कितने मरीजों के मृत्यु प्रमाणपत्र जारी हुए। ये बात जिला प्रशासन के कब्जे में रखे रिकार्ड में दर्ज है, जिसकी न्यायिक जाँच जारी है।

 160 total views,  6 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *