नोडल अधिकारी ने पकड़ी यूपी से आई गेहूं की ट्रैक्टर-ट्रालियां व केंटर, खुली मंडी में ट्रेडिंग की परतें

नोडल अधिकारी ने पकड़ी यूपी से आई गेहूं की ट्रैक्टर-ट्रालियां व केंटर, खुली मंडी में ट्रेडिंग की परतें

घरौंडा। अनाज मंडी के नोडल अधिकारी ने औचक चैकिंग कर यूपी से गेहूं लेकर आई आधा दर्जन गाडियों को पकड़ लिया। गेहूं लेकर आए लोगों के पास पोर्टल रजिस्ट्रेशन नहीं मिला और दो चालक ट्रैक्टर-ट्रॉलियां छोड़कर भाग गए। नोडल अधिकारी के एक्शन से अनाज मंडी में हड़कम्प मच गया। पकड़ी गई सभी गाडियों को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है और मामले की जांच की जा रही है। इस कार्रवाई ने एक बार फिर मंडी में बड़े स्तर पर जारी गेहूं ट्रेडिंग की परतें खोल दी है। मंडियों की स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने यूपी के गेहूं की मंडियों में एंट्री पूरी तरह से बंद कर दी गयी है। 1900 रूपए प्रति कुंतल के भाव पर यूपी से गेहूं जिले की मंडियों में पहुंच रहा है। लोकल किसानों के नाम पर आढ़ती इस गेहूं को सरकारी एजेंसियों को एमएसपी मूल्य 1975 रूपए प्रति कुंतल बेच रहे हैं। अनाज मंडी में गेहूं ट्रेडिंग का यह खेल बड़े लेवल पर खेला जा रहा है। रोजाना दर्जनों गाडियां बिना गेट पास के मंडी में दाखिल होती है। मंडी में जारी गेहूं ट्रेडिंग पर लगाम लगाने व बिना गेट पास गाडियों की एंट्री को रोकने में मार्केट कमेटी लगभग नाकामयाब रही है।
शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे मंडी के नोडल अधिकारी रवि प्रकाश ने फ्लाईओवर के नीचे मंडी की एंट्री पर गाडियों की औचक चैकिंग शुरू कर दी। आधे घंटे में ही गेहूं से भरी पांच ट्रैक्टर-ट्रॉलियां व यूपी नम्बर का एक केंटर पकड़ा गया। ये सभी वाहन बिना रजिस्ट्रेशन के यूपी से गेहूं लेकर आए थे ,लेकिन मंडी में दाखिल होने से पहले पकड़े गए। नोडल अधिकारी द्वारा की गई इस कार्रवाई में खुलासा हुआ कि मंडी में बड़े स्तर पर ट्रेडिंग का गेहूं मंगवाया जाता है। पुलिस ने गाडियों को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। यूपी का गेहूं पकड़े जाने के बाद मार्केट कमेटी सचिव चन्द्रप्रकाश व सहायक सचिव अशोक शर्मा पुलिस स्टेशन पहुंचे और थाना प्रभारी मोहन लाल से पकड़ी गई गाडियों के बारे में जानकारी ली। काबू आए चालकों से गेहूं भेजने व मंगवाने वाले लोगों के बारे में पूछताछ की गई है।
तीन फर्मो पर लगाया बीस हजार का जुर्माना, एक आढ़ती को दिया नोटिस, ट्रेडिंग से इंकार  
रात के अंधेरे से लेकर दिन के उजाले में बिना रजिस्ट्रेशन व गेट पास के गेहूं की गाडियां पकड़े जाने के बाद भी मार्केट कमेटी अधिकारी मंडी में गेहूं ट्रेडिंग होने से इंकार कर रहे है। कमेटी सचिव चन्द्रप्रकाश ने कहा कि पोर्टल पर रजिस्टर्ड यूपी के किसान माल लेकर आते है, लेकिन कल से उनके गेट पास जारी नहीं हो रहे, इसलिए उन्हें वापस भेजा जा रहा है। हालांकि मार्केट कमेटी ने बिना गेट पास गेहूं लाने के आरोप में आढ़ती दीप चंद सतपाल व सतपाल पंकज पर ढाई-ढाई हजार रूपए का जुर्माना लगाया है। वहीं यूपी से गेहूं का केंटर मंगवाने वाले आढ़ती बारू राम ,प्रदीप कुमार पर तीन हजार रूपए जुर्माना लगाते हुए 12 हजार रूपए मार्केट फीस वसूली गई है। सचिव ने बताया कि गुरूवार की रात मंडी में पकड़े गए गेहूं के केंटर के बारे में संबंधित फर्म रक्षित ट्रेडिंग कम्पनी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
यूपी से गेहूं लाने की शिकायत मिली थी, चैकिंग में कुछ गेहूं की गाडियां काबू की गई है, जिनकी जांच की जा रही है। पकड़ी गई गाडियों को पुलिस के हवाले किया गया है। ट्रेडिंग को रोकने के लिए प्रशासन लगातार चैकिंग कर रहा है।-रवि प्रकाश शर्मा, नोडल अधिकारी अनाज मंडी घरौंडा
गेहूं लाने वाले ड्राईवर्स से पूछताछ की जा रही है। मार्केट कमेटी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। अनाज मंडी के गेट पर पुलिस तैनात की जाएगी ताकि कोई भी जबरदस्ती एंट्री करने की कोशिश न करें। -मोहन लाल थाना प्रभारी घरौंडा।

 416 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *