थ्रेसिंग मशीन से उठती भूसे की गर्द के विरोध में दो पक्षों में हुआ भीषण खूनी संघर्ष, एक की मौत, कई घायल

थ्रेसिंग मशीन से उठती भूसे की गर्द के विरोध में दो पक्षों में हुआ भीषण खूनी संघर्ष, एक की मौत, कई घायल

बर्फ तोड़ने के सुए से वार कर उतारा मौत के घाट, मारपीट में तीन अन्य लोग भी घायल
जहाँगीराबाद/बुलन्दशहर। कोतवाली क्षेत्र स्थित चांदौक दोराहे के निकट आमने-सामने स्थित खेत में सोमवार की देर शाम दो पक्षों में थ्रेसिंग मशीन से उठती भूसे की धूल को लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया कि गेंहू की फसल निकलवा रहे युवक व उसके परिवार ने दूसरे पक्ष के एक युवक की निर्ममता से हत्या कर दी। झगड़े में हमलावर सहित तीन लोग और घायल हो गए। घटना की सूचना पर देर रात प्रभारी एसएसपी व एसपी सिटी कई थानों की फोर्स के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। मृतक के भाई ने एक महिला सहित चार लोगों के नामजद व तीन अज्ञातों के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौंपते हुए कार्यवाही की मांग की है। पुलिस ने मृतक के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। जानकारी के अनुसार सोमवार की देर शाम नगर के मौहल्ला लोधान निवासी लवकुश पुत्र महेंद्र जहाँगीराबाद-बुलन्दशहर रोड स्थित अपने खीरे के खेत पर मौजूद था। उसी समय उसके खेत के सामने स्थित अन्य खेत में उमेश पुत्र तेजपाल निवासी मौहल्ला लोधान अपने खेत में थ्रेसिंग मशीन से गेंहू निकलवा रहा था। पुलिस को दी गई तहरीर में पीडि़त ने आरोप लगाया है कि गेंहू निकालते समय मशीन से निकलने वाली भूसे की गर्द उसके खीरों को नुकसान पहुंचा रही थी, जिसका विरोध करने पर गेंहूँ निकलवा रहे उमेश पुत्र तेजपाल ने लवकुश से अभद्रता करनी शुरू कर दी। कुछ देर बाद ही लवकुश का भाई उमेश व उसकी माँ नेमवती भी खेत पर पहुंच गए और मशीन का मुंह घुमाने के लिए कहा। इस बात से आग बबूला हुए उमेश ने अपने पिता तेजपाल, भाई पंकज व पत्नी पिंकी तथा अज्ञात साथियों के साथ मिलकर लाठी-डंडों से लवकुश व उसके परिवार के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। देखते ही देखते झगड़ा इतना बढ़ गया कि गेंहू निकलवा रहे उमेश पुत्र तेजपाल उर्फ तिलकी की पत्नी पिंकी ने उमेश(27) पुत्र महेंद्र निवासी मौहल्ला लोधान पर बर्फ तोड़ने के सुए से वार कर दिया। कई बार नुकीले हथियार से वार करने के कारण उमेश पुत्र महेंद्र वहीं अचेत होकर गिर पड़ा। मारपीट में मृतक की मां नेमवती व हमला करने के आरोपी उमेश पुत्र तेजपाल को गम्भीर चोटें आई हैं जबकि लवकुश भी इस घटना में घायल हो गया। शोर सुनकर सड़क से गुजर रहे राहगीर जब मौके पर पहुंचे तो सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। वहीं राहगीरों की मदद से परिजन उमेश को नगर के सरकारी अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पर नरसेना, अहार, औरंगाबाद थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। सोमवार देर रात ही प्रभारी एसएसपी भारती सिंह व एसपी सिटी ने घटनास्थल का जायजा लेकर पीडि़त परिजनों से घटना के बारे में जानकारी ली। अधिकारियों के सामने ही मृतक के भाई ने सारा घटनाक्रम बताते हुए कार्यवाही की मांग की। पुलिस ने घटना के बाद दर्ज हुए मुकदमे में नामजद तेजवीर उर्फ तिलकी, पिंकी पत्नी उमेश व उमेश पुत्र तेजपाल को हिरासत में ले लिया। मृतक के भाई से प्राप्त तहरीर के आधार पर चार लोगों को नामजद व तीन अज्ञातों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तीन लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। फरार आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम जुट गई है।-राजीव कुमार सक्सेना, कोतवाली प्रभारी जहाँगीराबाद।

 214 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *