डीएम ने प्रभारी चिकित्साधिकारियों संग बैठक कर कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु किये कार्याें की समीक्षा की

डीएम ने प्रभारी चिकित्साधिकारियों संग बैठक कर कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु किये कार्याें की समीक्षा की

आशा, आंगनवाड़ी, अध्यापक, राशन डीलर, चौकीदार लोगों का वैक्नसीनेशन कराएं
बुलन्दशहर। जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने जनपद में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए किये जा रहे कार्यो/प्रयासों के संबंध में प्रभारी चिकित्साधिकारियों के साथ जिला पंचायत सभागार में बैठक करते हुए कार्यो की विस्तृत रूप से समीक्षा की। उन्होंने प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया कि जनपद में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जनपद की सीमाओं पर सेम्पलिंग टीम द्वारा प्रभावी रूप से एंटीजन, आरटीपीसीआर, सेम्पलिंग की कार्यवाही करायी जाये। सेम्पलिंग टीम को ब्रीफ किया जाये कि सेम्पलिंग करते हुए समय संबंधित व्यक्ति का सही पता एवं मोबाइल नम्बर प्राप्त किया जाये। साथ ही निगरानी समितियों को सक्रिय करते हुए बाहर से आने वाले व्यक्तियों के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए टीम द्वारा सेम्पलिंग की कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये। प्रभारी चिकित्साधिकारियों को यह अवगत कराया गया कि टेस्टिंग एवं कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में आवश्यकतानुसार पुलिस बल की सहायता प्राप्त करने हेतु संबंधित थाना के प्रभारी एवं क्षेत्राधिकारी/उप जिलाधिकारी से सम्पर्क करें। उन्होंने कहा कि बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन पर सेम्पलिंग टीम की ड्यूटी लगाते हुए प्रभावी रूप से बाहर से आने वाले लोगों की सेम्पलिंग करायी जाये,साथ ही पॉजिटिव व्यक्ति की प्रभावी रूप से कॉन्टैक्ट टेªसिंग करते हुए कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये। निजी अस्पतालों में आईएलआई लक्षण वाले व्यक्तियों/मरीाजों के संबंध में प्रभावी रूप से निगरानी कराते हुए सूचनायें प्राप्त करते हुए टेस्टिंग की कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये। कोविड नियमों का उल्लंघन करने वाले दोषियों के विरूद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही करते हुए व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये ताकि अन्य लोग सबक ले सके।
कोविड वैक्सीनेशन के संबंध में जानकारी हासिल करते हुए कहा कि 45वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को अधिक से अधिक वैक्सीने लगाये जाने हेतु आशा, आंगनवाड़ी, अध्यापकों, राशन डीलर, चौकीदार के माध्यम से लोगों को प्रेरित कर वैक्नसीनेशन कराया जाये। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को कोविड वैक्सीन की प्रथम डोज लगी हैं तथा उनके द्वारा द्वितीय डोज नहीं ली गई है ,उनसे सम्पर्क करते हुए द्वितीय डोज लगवायी जाये। टीम द्वारा मण्डी, बाजारों एवं भीड़भाड वाले स्थलों पर सेम्पलिंग की प्रभावी रूप से कार्यवाही कराते हुए संक्रमण की रोकथाम करायी जाये। जिन व्यक्तियों के संक्रमित होने के ज्यादा आसार हैं उनकी प्राथमिकता पर सेम्पलिंग करायी जाये। होम आईसोलेशन किये गये लोगों की प्रभावी रूप से निगरानी करायी जाये तथा उल्लंघन करने वाले दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही कर प्रचार-प्रसार भी किया जाये। उन्हांेने कहा कि स्वास्थ्य केन्द्रों पर कोविड हेल्प डेस्क को सक्रिय करते हुए थर्मल स्कैनिंग, प्लस ऑक्सीमीटर, हैंड सेनेटाइजर, फेस मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग आदि का पालन कराते हुए स्वास्थ्य कर्मियों का संक्रमण से बचाव कराया जाये। बैठक में प्रभारी चिकित्साधिकारियों को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के संबंध में प्रभावी कार्यवाही करने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये गये। बैठक में एसएसपी संतोष कुमार सिंह, सीएमओ डॉ0 भवतोष शंखधर, अपर जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार, एसपी देहात, एसपी सिटी सहित समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारी उपस्थित रहे।

 166 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *