डिबाई पुलिस ने 25हजारी गिरफ्तार कर भेजा जेल

डिबाई पुलिस ने 25हजारी गिरफ्तार कर भेजा जेल

लूट के मामले में चल रहा था वांछित, सात को पुलिस पहले ही भेज चुकी थी जेल
बुलन्दशहर/डिबाई ।
अब इसे आर्थिक तंगी कहें या बढ़ता हुआ अपराधीकरण, मगर ये वो सच है कि जैसे-जैसे देश आधुनिक हो रहा है ,वैसे-वैसे अपराध भी बढ़ रहा है, लेकिन इसी के साथ एक बात और सत्य साबित होती है कि यदि पुलिस अपनी पर आ जाए तो अपराधी कब्र में भी छुपा हो तो भी उसकी खैर नहीं। अब ऐसे में टीम हो प्रभारी निरीक्षक सुभाष सिंह की और उसमें सिपेसालार हो रुस्तम सिंह, तो फिर मुल्जिम की कहाँ खैर…
ऐसा ही कुछ घटनाक्रम 01जुलाई को उस वक्त देखने को मिला, जब प्रभारी निरीक्षक डिबाई सुभाष सिंह ने दौलतपुर चौकी इंचार्ज रुस्तम सिंह के साथ मुखबिर से मिली सूचना पर पहासू रोड के दानपुर चौराहे के पास से विकेश उर्फ जितेंद पुत्र सतीश निवासी ग्राम बगराई थानाक्षेत्र खुर्जा देहात जनपद बुलन्दशहर को हिरासत में ले लिया। जिसके पास से दो जिंदा कारतूस एवं एक 315 बोर का तमंचा भी बरामद हुआ। मामले पर जानकारी देते हुए सुभाष सिंह ने बताया कि 25 दिसम्बर, 2020 की रात्रि को एक्सयूवी से पीछा कर कुछ अज्ञात लोगों ने थानाक्षेत्र डिबाई के अलीगढ़ मार्ग पर एक पिकअप वाहन को रोक लिया। जिसके बाद उक्त गाड़ी को उन लोगो द्वारा लूट लिया गया। इसके बाद लुटेरे उक्त पिकअप चालक को अगवा करके अपने साथ ले गए। रास्ते मे एक सुनसान जगह देख कर उन लोगों ने उक्त पिकअप को काट कर स्क्रैप बना डाला। जिसे लेकर वो सभी अभियुक्त बेचने के इरादे से जनपद हापुड़ के बाबूगढ़ थानाक्षेत्र में ले गए। जहाँ उन्होंने चालक को मारपीट कर छोड़ दिया। बदहवास ड्राइवर ने जाकर जब उक्त घटना की सूचना बाबुगढ़ थाने में दी तो पुलिस ने तत्काल एक्शन लेते हुए स्क्रैप सहित 6 लोगो को गिरफ्तार कर लिया, जबकि दो अभियुक्त फरार हो जाने में सफल हो गए। पुलिस द्वारा दोनों फरार अभियुक्तों की शिनाख्त हो जाने पर एसएसपी सन्तोष कुमार सिंह के निर्देशानुसार दोनों फरार आरोपियों पर आवश्यक कार्यवाही शुरू कर दी गयी। इसी क्रम में सन्तोष कुमार सिंह ने दोनों ही आरोपियों पर 25000 रुपये का इनाम घोषित कर दिया। जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक सुभाष सिंह ने दौलतपुर चौकी इंचार्ज रुस्तम सिंह के साथ मिलकर 01जून, 2021 को कल्लन उर्फ मनोज पुत्र धर्मवीर को अलीगढ़ रोड पर दबोच लिया तो वही दूसरे इनामी को गुरुवार 01जुलाई, 2021 को गिरफ्तार कर लिया। इसी क्रम में जानकारी देते हुए सुभाष सिंह ने बताया कि दोनों ही आरोपियों पर अलग-अलग थानों में कई मामले पूर्व में भी दर्ज हैं। अतः ये लोग पेशेवर मुजरिम हैं। डिबाई पुलिस ने गुरुवार को ही उक्त इनामी का चालान कर जेल भेज दिया। पुलिस द्वारा की गई इस कार्यवाही में दौलतपुर चौकी इंचार्ज रुस्तम सिंह के अलावा आरक्षी आशु धामा, दीपक पुंढीर, सोनू सिंह मुख्य भूमिका में रहे तो वही अरुण मावी ने समय प्रपत्र तैयार कर प्रक्रिया को पूर्ण किया।

 94 total views,  4 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *