जिले में कोरोना कहर ने पकड़ी सुस्ती, आज मिले 226 कोरोना संक्रमित

जिले में कोरोना कहर ने पकड़ी सुस्ती, आज मिले 226 कोरोना संक्रमित

बुलन्दशहर जिले में अब तक 11243 हुये कोरोना पॉजिटिव, जबकि 8478 यक्ति हुये ठीक
146 कोरोना पॉजिटिव की हो चुकी है मौत
बुलन्दशहर।
जिले मेें दिनोंदिन कोरोना कहर लोगों पर जमकर टूट रहा है।लेकिन विगत दो दिनों से संक्रमितों की संख्या में कमी आई है, मगर संक्रमण से मरने वालों की तादाद कुछ बढ़ी है, इससे जिले में हड़कम्प मचा है।इसी क्रम में जिले में आज 226 और नये कोरोना संक्रमित केस मिले हैं, इन्हें मिलाकर जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 11243 हो गयी है, इनमें से जिले मंे 190 और नये व्यक्तियों ने कोरोना संक्रमण से जंग जीती है, जिसके कारण जिले में अब कोरोना मुक्त व्यक्तियों की संख्या 8478 हो गई है।वही 6 लोगों की मौतों के बाद जिले में अब कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 146 हो गयी हैं,जबकि स्वास्थ्य विभाग ने अपने पोर्टल पर मरने वालों की संख्या 124 दर्शाई है। अब जिले में उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी 2619 हो गई है। अब जिले में हॉटस्पॉट व कंटेनमेंट जोन भी 880 के पार हो गये।
वहीं नगर क्षेत्र में आज एक चिकित्सक कैलाश बिहारी और जूता व्यापारी योगेन्द्र मित्तल की कांेरोना संक्रमण से मौत हो गयी। वहीं खुर्जा में बालाजी ट्रेवल्स के मालिक राकेश अग्रवाल नहीं रहे, कैलाश हॉस्पिटल में भर्ती थे, गुरूवार की सुबह उन्हांेने दम तोड़ा। उधर नगर क्षेत्र में ज्वैलर्स कपिल मल्होत्रा की पत्नी की कोरोना से मौत हुई है। वहीं डिस्ट्रिक्ट बार के पूर्व एडीजीसी भूपेंद्र उपाध्याय और, रविंद्र लोधी की भी कोरोना संक्रमण से मौत हो गयी। दोनों बारों में शोक की लहर दौड़ी हुई है। वहंी खुर्जा के कोविड जटिया हॉस्पिटल में विगत 24घंटे के अंदर 07महिला समेत 08और लोगों की मौत हो गयी। चार दिन के भीतर उक्त कोविड हॉस्पिटल में 21 लोगों की जान जा चुकी है। मृतकों में एक दादरी और एक हापुड़, बाकी छः खुर्जा, बुलन्दशहर, शिकारपुर, जहांगीराबाद और नरौरा के है। ये सब तो वो है जिनके आंकड़े उपलब्ध है जिले में विगत सप्ताह भर में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 100 के पार है, मगर इनके आंकड़े नहंी हैं, क्योंकि इनमें अधिकतर लोगों ने बिना सूचना दिये जाने मृतकों का अंतिम संस्कार कर दिया है।
इस प्रकार अब जिले के हालात ठीक नहीं हैं,कोरोना की तेजी से बढ़ती रफ्तार से जिले के आलाधिकारियों की रातों की नींद व दिन का चैन उड़ा हुआ है। इसका मुख्य कारण है कि जनमानस न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहा है और न ही मास्क का। लोगों ने कोरोना महामारी को मखौल बनाकर रख दिया है। इसी के चलते शासन ने विगत मंगलवार रात्रि 9बजे से प्रातः 6बजे तक शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने रात्रि कर्फ्यू लगाने के साथ ही पूरे प्रदेश में शुक्रवार रात्रि 8बजे से मंगलवार प्रातः 7बजे तक लॉकडाउन की घोषणा की गयी है, जिसका सख्ती से पालन कराया जायेगा।

 386 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *