जिले में ऑक्सीजन की हो सकती है किल्लत, मची मारामारी

जिले में ऑक्सीजन की हो सकती है किल्लत, मची मारामारी

बुलन्दशहर। कोरोना संक्रमण के एक्टिव मरीजों का आंकड़ा बुलन्दशहर जनपद में दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। कोरोना संक्रमण के एक्टिव मरीजों का आंकड़ा बढ़कर डेढ़ हजार से आगे निकल चुका है,बाकी का इलाज  आसपास के जिलों में भी चल रहा है, लेकिन जिस तरह से हालत बिगड़ रहे हैं ,उसे देखते हुए होम आइसोलेट मरीज भी एडवांस में ही ऑक्सीजन सिलेंडर स्टोर करने की जुगत में लगे हैं, उसके लिए भले ही अच्छी क्वालिटी के नाम पर मोटी रकम ही क्यों न देनी पड़े। लगातार बिगड़ते हालत को देखते हुए होम आइसोलेट वाले मरीज भी परेशान हो रहे हैं और भविष्य की सोच पर ऑक्सीजन सिलेंडर लेना चाहते हैं। कुछ तो ले चुके हैं और कुछ जुगत में लगे है, लेकिन अब ऑक्सीजन गोदाम वालों ने बिना डॉक्टरी पर्चे के सिलेंडर देना ही बंद कर दिया है ,सिर्फ उन्हीं लोगों को सिलेंडर दिया जा रहा है, जो सांस के रोगी है और वह पहले से ही सिलेंडर ले रहे हैं या चिकित्सा की सलाह पर यह ऑक्सीजन सिलेंडर ले रहे हैं। मुस्लिम गर्ल्स डिग्री कॉलेज रोड पर आबाद गैस एजेंसी मालिक शाबाद अंसारी ने बताया कि कोविड-19 के अलावा जिले भर में 100 से 150 सिलेंडर की खपत होती है ,जबकि उनके स्तर से जिला अस्पताल जिला महिला अस्पताल के अलावा 40 में 50 सिलेंडर की सप्लाई की जाती है। कोरोना काल में यही मांग दोगनी हो जाती है और जो लोग घर पर रहते हैं, वह लोग छोटा सिलेंडर ही प्रयोग करते हैं। सिलेंडर की शिकायत की जाती है तो कोई सुनने को तैयार नहीं।

 278 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *