जिला पंचायत अध्यक्ष पद की दावेदार गीता चरौरा ने भाजपा व प्रशासन पर नामांकन से रोकने तथा झूठे मुकदमे का लगाया आरोप

जिला पंचायत अध्यक्ष पद की दावेदार गीता चरौरा ने भाजपा व प्रशासन पर नामांकन से रोकने तथा झूठे मुकदमे का लगाया आरोप

बुलन्दशहर। जिला पंचायत अध्यक्ष पद की दावेदार गीता चरौरा ने भाजपा व प्रशासन पर नामांकन से रोकने तथा झूठे मुकदमे का आरोप लगाते हुए रविवार को प्रेसवार्ता आयोजित की। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष पद की दावेदार गीता चरौरा के साथ, रालोद नेता सुनील चरौरा (गीता के पति), सपा नेता भगवंत उर्फ पिंटू प्रमुख, बादल यादव, हरीश लोधी आदि उपस्थित रहे।
इस अवसर पर गीता चरौरा ने कहा कि प्रशासन पूरी तरह भाजपा के दबाव में था और वह नहीं चाहता था कि हम किसी भी कीमत पर नामांकन करें। इस कारण उन्होंने झूठे मुकदमे लगा कर हमें घर से निकलने ही नहीं दिया और मेरे पति को घर से निकलते ही पुलिस ने अरेस्ट कर लिया और दिन भर उनको इधर से उधर घुमाती रही, जिससे कि नामांकन का समय निकल जाए।
वहीं सुनील चरौरा ने कहा कि पूरे मामले की शिकायत हमने राष्ट्रीय चुनाव आयोग लखनऊ से की है और हम अपने अधिकार के लिए हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट जाने से भी गुरेज नहीं करेंगे। अगर आठ दिन में हमें इंसाफ नहीं मिलता है तो हम रालोद, सपा और आजाद समाज पार्टी के साथ मिलकर विरोध प्रदर्शन कर जिलाधिकारी का घेराव करेंगे।
इस अवसर पर पिंटू प्रमुख ने मीडिया के सामने अपनी बात रखते हुए कहा कि आप देख ही रहे हैं ,पहले सुनील चरौरा के घर व गांव पर पुलिस ने छापेमारी की, उसके बाद सिकन्द्राबाद इलाके के एक स्कूल में जब शांतिपूर्वक हम मीटिंग कर रहे थे ,तब पुलिस ने लगभग 20जिला पंचायत सदस्यों को जबरन उठाकर बंद कर दिया ,बाद में मीडिया के पहुंचने पर छोड़ा गया। अब हमें नामांकन से रोकने के लिए झूठे मुकदमे दर्ज हुए हैं। वही सपा नेता बादल यादव ने कहा कि लोकतंत्र की हत्या किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। भाजपा की तानाशाही नहीं चलने देंगे। सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर एक बड़े आंदोलन की तैयारी कर हर उस जिले में जहां भी बीजेपी ने दमन की नीति अपनाते हुए लोकतंत्र की हत्या की है, अन्य पार्टियों के साथ मिलकर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।

 202 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *