जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर कार्याे की विस्तृत समीक्षा की

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर कार्याे की विस्तृत समीक्षा की

सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में मीडिया को सही तथ्यों से अवगत कराते रहें ताकि किसी प्रकार की विरोधाभासी/भ्रामक तथ्य प्रकाशित न हो सके
यदि कोई विरोधाभासी अथवा भ्रामक तथ्य प्रकाशित होना संज्ञान मंे आता है तो तत्काल उसका खण्डन जारी करते हुए सही तथ्यों की प्रेस रिलीज जारी की जाये
बुलन्दशहर।
वर्तमान में मौसमी बीमारियों यथा-मलेरिया, डेंगू बुखार आदि से बचाव एवं रोकथाम के दृष्टिगत स्वास्थ्य विभाग की ओर से किये जा रहे कार्याे एवं संचारी नियंत्रण अभियान की तैयारियों के विषय में जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए कार्याे की विस्तृत रूप से समीक्षा की गई। निर्देशित किया गया कि जिस गांव से डेंगू बुखार होने अथवा कतिपय बुखार के कारण मृत्यु हो जाने के मामले प्रकाश में आ रहे हैं,उनका तत्काल संज्ञान लेकर संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य कैम्प आयोजित किये जायें। साथ ही पर्याप्त संख्या में बुखार आदि से पीडि़त व्यक्तियों के सेम्पलिंग की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। साथ ही साथ लोगांे को बुखार की बीमारी से बचाव हेतु आवश्यक सुझावों से भी अवगत कराते हुए जागरूकता लाये जाने की कार्यवाही करायी जाये। जनपद के सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों से उनके स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध टेस्टिंग किट के बारे मंे भी जानकारी लेते हुए समीक्षा की गई। इस संबंध में सीएमओ को निर्देशित किया गया कि प्रत्येक सीएचसी/पीएचसी पर पर्याप्त संख्या में टेस्ट किट अनिवार्य रूप से उपलब्ध रखी जाये। ताकि जिस क्षेत्र में बुखार आदि के अधिक मरीज संज्ञान में आते हैं तो वहां पर तत्परता से अधिक से अधिक लोगांें की टेस्टिंग सुनिश्चित हो सके। यह भी निर्देशित किया गया कि सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में मीडिया को सही तथ्यों से अवगत कराते रहें ताकि किसी प्रकार की विरोधाभासी/भ्रामक तथ्य प्रकाशित न हो सके। यदि कोई विरोधाभासी अथवा भ्रामक तथ्य प्रकाशित होना संज्ञान मंे आता है तो तत्काल उसका खण्डन जारी करते हुए सही तथ्यों की प्रेस रिलीज जारी की जाये। यह भी निर्देशित किया गया कि आगामी संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अन्तर्गत गांव में आशा, एएनएम एवं आंगनवाड़ी के माध्यम से घर-घर जाकर लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण कराये जाने के साथ-साथ साफ-सफाई सुनिश्चित कराये जाने के विषय पर विशेष फोकस दिये जाने एवं लोगों में जागरूकता लाये जाने के निर्देश दिये गये। बीमारी से रोकथाम का मुख्य कारक सफाई ही है इसलिए साफ-सफाई करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक पाण्डेय, सीएमओ डॉ0 विनय कुमार सिंह सहित समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

 60 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *