जिलाधिकारी ने अवन्तिका देवी मंदिर के पीछे गंगा के अपर स्ट्रीम में बाढ़ से रोकथाम एवं कटान को रोकने हेतु कराये गये कार्यो का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा

जिलाधिकारी ने अवन्तिका देवी मंदिर के पीछे गंगा के अपर स्ट्रीम में बाढ़ से रोकथाम एवं कटान को रोकने हेतु कराये गये कार्यो का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा

गंगा का जल स्तर बढ़ने पर है,मगर मन्दिर के नीचे कटान को रोकने हेतु अभी तक कोई कार्य नहीं किया गया, डीएम ने संबंधित अधिकारियों के प्रति कड़ी नाराजगी जताई
बुलन्दशहर।
तहसील अनूपशहर क्षेत्रान्तर्गत अहार के समीप अवन्तिका देवी मन्दिर के पीछे की ओर गंगा के अपर स्ट्रीम में बाढ़ से रोकथाम एवं कटान को रोकने के लिए सिंचाई विभाग द्वारा कराये जा रहे कार्यो का जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने स्थलीय निरीक्षण करते हुए जायजा लिया। मौके पर गंगा नदी के कटान को रोकने के लिए प्लास्टिक के कट्टो में बालू भरकर स्टेक बनाते हुए गंगा नदी में डीपीआर के अनुसार 12 मीटर की चौड़ाई में डाले जाने का कार्य कराया जा रहा है। मौके पर अपर स्ट्रीम में लगभग 800 मीटर तक कार्य किया गया है, किन्तु मन्दिर के नीचे की साइड में कटान को रोकने हेतु अभी तक कार्य न तो पूर्ण किया गया है और न ही कट्टे डाले गये है। जबकि गंगा नदी का जल स्तर लगातार बढ़ रहा है। इस संबंध में जिलाधिकारी द्वारा सिंचाई विभाग के अधिकारियों के प्रति कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिये कि शेष कार्य को अधिक से अधिक मजदूर लगाते हुए एक पक्ष में पूर्ण कराया जाना सुनिश्चित करें। मौके पर आश्रम के श्रद्धालु एवं ग्रामवासियों द्वारा भी बताया गया कि सिंचाई विभाग द्वारा कार्य न तो गुणवत्ता के साथ किया जा रहा है और न ही बाढ़ आने के दृष्टिगत समय से पूरा कराया गया है। साथ ही गंगा नदी में डाले जा रहे बालू के कट्टों को बिना बांधे जाने की भी शिकायत की गई है। ऐसी स्थिति में अभी तक हुए परियोजना के कार्य के बह जाने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। इससे न केवल सरकारी सम्पत्ति को क्षति होगी ,अपितु कटान होने से मन्दिर एवं आसपास की भूमि को भी क्षति पहुंचेगी। जिलाधिकारी द्वारा डीपीआर के अनुसार कार्य की गुणवत्ता एवं समयबद्धता के साथ पूर्ण कराये जाने के लिए अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग प्रान्तीय खण्ड बुलन्दशहर को भी निर्देशित किया गया। इसके उपरान्त जिलाधिकारी द्वारा अवन्तिका देवी मन्दिर के समीप पर्यटन विभाग द्वारा कार्यदायी संस्था टी0सी0आई0एल0 के माध्यम बनवाये जा रहे घाट का भी स्थलीय निरीक्षण किया गया। मौके पर कार्य बन्द होना पाया गया। स्थल पर कार्यदायी संस्था के उपस्थित प्रतिनिधि मोहित सिंह सहायक महाप्रबन्धक द्वारा बताया गया कि कार्य 28 मार्च 2021 से बन्द है। जिलाधिकारी द्वारा कार्य बन्द मिलने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि विगत माह मार्च में निरीक्षण के उपरान्त से कार्य में कोई प्रगति नहीं लायी गई है, यह अत्यन्त ही खेदजनक एवं आपत्तिजनक स्थिति है ,इसे किसी भी दशा में स्वीकार नहीं किया जा सकता है। इस संबंध में पर्यटन विभाग के उच्चाधिकारियों को भी संबंधित संस्था के विरूद्ध कार्यवाही हेतु रिपोर्ट प्रेषित की जायेगी। साथ ही कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया गया कि कार्य को डीपीआर के अनुसार गुणवत्ता के साथ तेजी से पूर्ण कराया जाना सुनिश्चित करें। इस पर कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधि द्वारा 21जून से कार्य प्रारम्भ किये जाने का आश्वासन दिया गया। जिलाधिकारी द्वारा गंगा तट के समीप ही विभागीय अधिकारियों से उनके कार्यो की जानकारी हासिल करते हुए बीडीओ को निर्देशित किया गया कि अवन्तिका देवी को जाने वाले सम्पर्क मार्ग में गांव मुबारकपुर में कतिपय स्थलों पर जलभराव की समस्या के दृष्टिगत तत्काल जल निकासी हेतु आवश्यक कार्यवाही/नाला बनाये जाने की कार्यवाही सुनिश्चित करायें। साथ ही लोक निर्माण विभाग के अभियन्ता को निर्देशित किया गया कि सड़क को गड्ढा मुक्त कराये जाने की कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये। विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि विद्युत के जर्जर तारों एवं पोलों को बदलवाते हुए निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करायी जाये। स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया कि बाढ़ क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में मौसमी बीमारियों से संबंधित आवश्यक दवाओं एवं एंटी स्नेक वेनम की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जाए। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी अनूपशहर पदम सिंह, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई, बीडीओ, लोक निर्माण विभाग विभाग, विद्युत सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

 112 total views,  4 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *