जिनके पैर धोये उन्हें भूल गए प्रधानमंत्री -कामरेड

जिनके पैर धोये उन्हें भूल गए प्रधानमंत्री -कामरेड

सफाई कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित किया जाए-कामरेड सुरेश चंद
शिकारपुर/बुलन्दशहर।
पूरा देश कोरोना महामारी के आतंक के साये में जी रहा है। देश भर के सफाई कर्मचारी कोरोना महामारी खात्मे की लड़ाई में आगे बढ़कर अपनी जान की परवाह किये बिना रात दिन लगे हुए है। अफसोस की बात है कि प्रयागराज में सफाई कर्मचारियों के पैर धोने का नाटक करने वाला प्रधानमंत्री इन सफाई कर्मचारियों को कोरोना योद्धा की सूची में भी शामिल करने को तैयार नहीं है। उक्त विचार सीटू के जिलाध्यक्ष और सफाई कर्मचारी यूनियन के नेता कामरेड सुरेशचंद ने पानी की टंकी के मैदान में आयोजित कर्मचारियों की सभा को संबोधित करते हुए व्यक्त किये।
उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए सफाई कर्मचारियों को दस्ताने मास्क साबुन सेनिटाइजर गमछा फिनाइल तक उपलब्ध नहीं कराकर नगर पालिका अधिकारी कोरोना गाइड लाइन का उल्लंघन करते रहे। जिला प्रशासन सत्ताधारी दल के विधायक मंत्री सरेआम सब कुछ देखते हुए भी चुप्पी साधे रहे। इसके विपरीत कर्मचारी अपनी और बाल बच्चांे की चिंता किये बिना काम में लगे रहे। सभा की अध्यक्षता रमेशचंद खैर और संचालन संजय मारोठिया ने किया। सभा में मांग की गई कि सफाई कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित किया जाये। जिन कर्मचारियों की कोरोना से मौत हुई है, उनके आश्रितों को 5०लाख अनुग्रह राशि दी जाये और स्थाई नौकरी दी जाए। कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु मास्क दस्ताने साबुन सेनिटाइजर फिनाइल उपलब्ध कराकर सफाई कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान किया जाए। सभा में पंकज कुमार रामू बोबी हरीश मुनीम जीतू राजेश देवी बबली और शांति देवी आदि तमाम सफाई कर्मचारी उपस्थित रहे।

 186 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *