जनपद में 01 से 31 जुलाई तक चलेगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान

जनपद में 01 से 31 जुलाई तक चलेगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान

सभी विभाग अपना दायित्व जिम्मेदारी से निभाएं-जिलाधिकारी
सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के दिए आदेश
बुलन्दशहर।
जनपद में 01 से 31 जुलाई तक चलने वाले संचारी रोग नियंत्रण अभियान को लेकर शुक्रवार को जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में अन्तर्विभागीय समन्वय समिति की बैठक हुई। बैठक में जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने कहा कि इस अभियान में जो विभाग प्रतिभाग कर रहे हैं ,वह अपने उत्तरदायित्वों का निर्वाह जिम्मेदारी से करें और अभियान को सफल बनाएं। इस अभियान में सभी गतिविधियों की कार्ययोजना बनाकर अधिक से अधिक लोगों को जागरूक किया जाए और उन्हें कार्यक्रम से जोड़ा जाए।
उन्होंने जनपद में 01 से 31 जुलाई तक चलने वाले संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सफल बनाने के लिए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि दस्तक अभियान में आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर संवेदीकरण एवं सर्वेक्षण का कार्य करेंगी, साथ ही प्रत्येक मकान से क्षय रोग के संभावित रोगियों के बारे में जानकारी लेते हुए वरिष्ठ अधिकारी को अवगत कराएंगी। उसी दौरान जन्म एवं मृत्यु पंजीकरण से छूट गये शिशुओं/व्यक्तियों के पंजीकरण कराएंगी। अभियान के दौरान दिमागी बुखार के कारण दिव्यांग हुये व्यक्तियों की सूचना भी उपलब्ध करायेंगी।उन्होंने निर्देश दिये कि नगर निगम व नगर निकायों के अधिकारी साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करें। कस्बा और शहरों की नालियो में पानी जमा न होने दें। साथ ही समय-समय पर एंटी लार्वा का छिड़काव कराया जाये। शिक्षा विभाग द्वारा बच्चों को संचारी रोगों के प्रति जागरूक किया जायेगा।
जिला मलेरिया अधिकारी डॉ0 बीके श्रीवास्तव ने बताया कि अभियान में स्वास्थ्य विभाग नोडल विभाग के रूप में काम कर रहा है और अन्य सभी विभाग मिलकर काम करेंगे। ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता समिति की बैठक कर कार्यक्रम के बारे में लोगों को विस्तार से बताएंगे। गाँव में झाडि़यों की सफाई, तालाबों के किनारों की सफाई व अन्य सार्वजानिक स्थलों की सफाई करवाना और गाँव में ऐसे हैण्डपंप जिनका पानी पीने योग्य नहीं है, उन पर लाल निशान लगाकर उन्हें चिन्हित करना तथा लोगों को बताना कि अब इसका पानी उपयोग करने के लायक नहीं है आदि काम का जिम्मा ग्राम प्रधान का रहेगा। ग्राम स्तर पर प्रभात फेरी, ग्रामवासियोँ के साथ-साथ साफ सफाई की प्रतिज्ञा, गांव में छोटी-छोटी बैठकें कर लोगों को संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम के बारे में बताने का काम पंचायती राज विभाग का होगा। शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल के बच्चों को जागरूक किया जाएगा और संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा की जागरूकता के लिए गांव में रैली निकाली जाएगी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 भवतोष शंखधर ने लोगों से अपील की है कि वह वेक्टर जनित बीमारियों से लड़ने के लिए स्वच्छता अभियान से जुड़ें और अभियान को सफल बनाएं। उन्होंने कहा कि हम जागरूकता के माध्यम से ही इन बीमारियों पर विजय पा सकते हैं।

 220 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *