छेड़छाड़ के दो आरोपियों को अभयदान देने पर ग्रामीणों का थाने पर हंगामा,पुलिस के खिलाफ किया जमकर प्रदर्शन

छेड़छाड़ के दो आरोपियों को अभयदान देने पर ग्रामीणों का थाने पर हंगामा,पुलिस के खिलाफ किया जमकर प्रदर्शन

औरंगाबाद/बुलन्दशहर। थाना क्षेत्र के एक गांव में विगत चार दिन पूर्व घर में सो रही युवती के साथ तीन युवकों द्वारा छेड़छाड़ करने और विरोध पर माँ-बाप को पीटने के मामले में हल्का इंचार्ज द्वारा दो आरोपियों को अभयदान देने पर गुस्साए ग्रामीणों ने औरंगाबाद थाने पर प्रदर्शन किया। कार्रवाई न होने पर एसएसपी से शिकायत की चेतावनी दी। रिपोर्ट दर्ज न होने से पीडि़तों में पुलिस के खिलाफ गुस्सा है।
बता दें कि विगत सोमवार की तड़के एक गांव निवासी एक परिवार के सदस्य घर के आंगन में सोया हुआ था। तड़के चार बजे गांव के ही तीन युवक घर की दीवार फांदकर अंदर घुस आए और अपने माता-पिता के पास सो रही युवती के साथ छेड़छाड़ कर दी। युवती का शोर सुनकर जागे माँ- बाप ने घटना का विरोध किया तो आरोपियों ने उनकी पिटाई कर डाली। मामले में पीडि़ता के पिता ने तीन आरोपियों के खिलाफ थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की थी। घटना को चार दिन का समय बीत चुका है, लेकिन हल्का इंचार्ज ने एफआईआर दर्ज करना उचित नहीं समझा। बुधवार रात पुलिस आरोपी के घर दबिश देकर उसके पिता को हिरासत में लेकर थाने ले आये। इसकी सूचना पर सुबह एक आरोपी ने थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया था। सूचना पर पीडि़त के परिजन और ग्रामीण भी थाने आ गए। पीडि़त परिजनों का आरोप है कि हल्का इंचार्ज ने उनसे दूसरी तहरीर देने के साथ मात्र एक आरोपी का नाम ही देने की बात कही, जिस पर परिजन भड़क गए। परिजनों और ग्रामीणों ने थाने के गेट पर प्रदर्शन किया। परिजनों का कहना था कि हल्का इंचार्ज दो आरोपियों से मोटी रकम वसूलकर उन्हें अभयदान दे रहा है। परिजनो ने साफ कहा कि यदि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की तो एसएसपी कार्यालय पर प्रदर्शन किया जाएगा। हंगामे को देख थाना प्रभारी मौके पर पहुँचे और उन्होंने शाम को आने की बात कहकर थाने से वापस भेज दिया।
तहरीर के आधार पर मामले की जांच की जा रही है, अभी मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है।-विनयकांत गौतम ,हल्का इंचार्ज

 194 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *