चुनावी रंजिश के चलते बीडीसी का अपहरण, अभियुक्तों को गिरफ्तार करने हेतु  पुलिस की पांच टीमें गठित

चुनावी रंजिश के चलते बीडीसी का अपहरण, अभियुक्तों को गिरफ्तार करने हेतु पुलिस की पांच टीमें गठित

आरोपी दो महिलाएं अवैध तमंचा मय कारतूस समेत गिरफ्तार
बुलन्दशहर/स्याना।
चुनावी रंजिश के चलते ग्राम बहापुर से एक बीडीसी का कुछ लोगों द्वारा अपहरण किये जाने का मामला प्रकाश में आया है। घटना की सूचना दिये जाने के बाद थाना पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है। थाना बीबीनगर अंतर्गत ग्राम बहापुर निवासी अशोक ने थाने में सौरव आदि को नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज कराया है कि उक्त लोगों ने चुनावी रंजिश के चलते उसके भतीजा मोहित उर्फ खजूर (27) पुत्र राजेन्द्र सिंह घर से दुकान पर सामान लेने गया था कि वापस आते समय गाँव के ही सौरभ पुत्र देवेन्द्र एवं उसके साथी निरंजन उर्फ पप्पू ,गोवन्द्र उर्फ गुल्लू एवं दो अन्य साथियों ने अपने कलेसर पर रोककर उसके साथ मारपीट करते हुए फायरिंग की और सफेद रंग की स्विफ्ट में डालकर जान से मारने की नीयत से अपरण कर ले गये। बताया गया कि इस घटना मंे आरोपी सौरव की माँ गुडि़या पत्नी मुकेश चौधरी एवं साला जीत सिंह, पिता देवेन्द्र भी शामिल है। दर्ज मुकदमे में कहा गया कि मोहित बीडीसी है ,जबकि मुख्यारोपी प्रधानी का चुनाव हार चुका है। चुनावी रंजिश के चलते अपहरण किए जाने के साथ-साथ आशंका जताई जा रही है कि यदि पुिलस सक्रिय नहीं हुई तो मोहित की जान भी जा सकती है।उक्त प्रकरण में पुलिस ने दो महिलाओं को गिरफ्तार भी कर लिया है। गिरफ्तार महिलाओं के कब्जे से एक तमंचा और 20कारतूस भी बरामद हुए है। समाचार लिखे जाने तक अपहृत बीडीसी मोहित का कोई सुराग नही लगा है। पुलिस जांच पड़ताल में जुटी होने का दावा कर रही हैं। जबकि अपहृत बीडीसी के परिजनों ने अनहोनी की आशंका जताई है। उधर पुलिस इसे ब्लॉक प्रमुख चुनाव से अपहरण के तार जोड़ रही है।

 630 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *