गंदगी से भरे नाले बनेंगे बीमारियों का सबब

गंदगी से भरे नाले बनेंगे बीमारियों का सबब

स्याना/बुलन्दशहर। बरसात आने से पूर्व नालों की सफाई के दावे फेल नजर होते आ रहे हैं, जबकि प्रशासनिक अधिकारी इसके विपरीत दावे कर रहे हैं। स्याना से चांदपुर रोड पर गंदगी से अटे पड़े नाले इसका प्रमाण हैं। नालो के अटे पड़े रहने के चलते हल्की बूंदाबांदी के बाद रोड पर गंदा पानी जमा हो जाता है, जिसके चलते संक्रामक रोगों के फैलने से इंकार नहीं किया जा सकता। लंबे समय से गंदगी से अटे पड़े नालों की ओर नगर पालिका का ध्यान नहीं है, लेकिन सफाई व्यवस्था माकूल होने के दावे जोरों पर हैं। जिलाधिकारी रविंद्र कुमार के आदेशों के अनुपालन में अधिशासी अधिकारी निर्देश कर चुके हैं, लेकिन अधिकारियों के आदेश नगरपालिका के सफाईकर्मियों की हठधर्मिता के आगे फेल साबित हो रहे हैं। नगर में कार्यवाहक पर्यवेक्षक सहित तीन कर्मचारी सफाई कार्य का जायजा लेते हैं, लेकिन फिर भी नालों में बजबजा रही गाद उनकी सक्रियता की पोल खोल रही है। नाले की सफाई का आलम यह है कि नाले में घास उगी पड़ी है तथा तमाम तरह की गंदगी से नाला अटा पड़ा है। मानसून सिर पर है कथा बारिश होने के साथ सड़क पर निकलना दूभर होना लाजमी है। रोड पर गंदगी का अंबार लग जाने से इंकार नहीं किया जा सकता। क्षेत्र के नागरिकों का कहना है कि नाले में लगातार गंदगी रहने के करण मच्छरों की तादाद बहुत बुरी तरह बढ चुकी है। मच्छरों की वजह से नागरिकों का क्षेत्र में रहना दूभर हो चुका है तथा संक्रामक रोगों के फैलने की संभावना बनी हुई है।

 114 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *