कोरोना वायरस महामारी ने हमें एहसास कराया कि हम सभी जुड़े हुए हैं-डॉ0 कौशिक

कोरोना वायरस महामारी ने हमें एहसास कराया कि हम सभी जुड़े हुए हैं-डॉ0 कौशिक

यह समय हमारी सरकार के साथ एकजुट होने और खड़े होने का है-पवन
घरौंड़ा।
विश्व हिन्दू वाहिनी व एंटी क्रप्शन मीडिया इंवेस्टींगेशन ने कॉविड-19 के प्रति सचेत रहने की व एसओपी की पालना के लिए जागरूकता अभियान शुरू किया। विश्व हिंदू वाहिनी के प्रदेशाध्यक्ष एवं एंटी क्रप्शन मीडिया इंवेस्टींगेशन के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष व स्वर्णज्योति महासम्मान से सम्मानित डॉ0 प्रवीण कौशिक ने कहा कि कोरोना वायरस एक महामारी ने हमें एहसास कराया है कि हम सभी जुड़े हुए हैं और यह पूरी दुनिया एक परिवार है। हालांकि जुड़े हुए, चिकित्सा विशेषज्ञों ने सामाजिक बुराई को नई बुराई से लड़ने के लिए एक सही समाधान के रूप में सुझाया है।
उन्होंने कहा कि भारत में युवा कुल जनसंख्या का एक चौथाई से अधिक है। हमें इस देश के एक जिम्मेदार युवा के रूप में इस बीमारी के खिलाफ लड़ाई में भाग लेना चाहिए। अब, आइए इस लड़ाई में युवाओं की भूमिका को समझें। भगत सिंह ने भी देश के लिए अपनी भूमिका निभाई। इस युद्ध में सरकार की मदद कर इस युद्ध को जीता जा सकता है। हम अपने दोस्तों, परिवार व समाज आदि में 24 घंटे वॉट्सएप ग्रुप व सोशल मीडिया आदि के माध्यम से वायरस के बारे में सही जानकारी के साथ जागरूकता फैला सकते हैं। विश्व हिन्दू वाहिनी के प्रदेश संगठन मंत्री हरियाणा पवन अग्रवाल ने कहा कि हर धार्मिक गतिविधि कोरोना-वायरस के प्रकोप के बदले में रुकी हुई है, फिर भी अगर हम किसी भी सभा या रैली को देखते हैं। यदि आवश्यक हो तो मार्गदर्शन और रिपोर्ट करना हमारी जिम्मेदारी है। भारत का संविधान प्रत्येक भारतीय नागरिक के लिए पवित्र पुस्तक है और आदेश के रूप में हर आदेश को स्वीकार किया जाना चाहिए। हम एक लोकतंत्र में रहते हैं और हमें अपने विचार टेबल पर रखने का पूरा अधिकार है लेकिन यह समय हमारी सरकार के साथ एकजुट होने और खड़े होने का है।उन्हांेने कहा कि कोरोना-वायरस के प्रकोप ने मनुष्य के मानसिक स्वास्थ्य को भी प्रभावित किया है। क्योंकि हर कोई तनावपूर्ण स्थिति में अलग-अलग प्रतिक्रिया करता है। इसलिए तनाव व चिंता की इस घड़ी में सही ज्ञान, सही विनम्रता, सही वीडियो का प्रसार करें और  सुनिश्चित करें कि हम इस लड़ाई को जीतने जा रहे हैं। बेहतर समझने के लिए ष्यह कोरोना-वायरस नहीं है जो खतरनाक है लेकिन यह त्वरित प्रसार है जो एक खतरा हैष्। हमारा नैतिक कर्त्तव्य है कि हम घर पर रहकर इस लड़ाई में भाग लें।  वीएचवी तथा एसीएमआई आम जनता से अपील करती है कि सरकार द्वारा जारी एसओपी का पालन करें। जनता को कोविड के नियमों व वर्तमान क्रीटीकल समय के बारे में अवगत होना चाहिए। सभी को हैंड सैनिटाइजर, फेस मास्क, सोशल डिस्टैंसिंग का विशेष ध्यान रखना चाहिए व कॉविड वैक्सीन का टीका अवश्य लगवायें। भीड़ वाले क्षेत्रों में जहाँ तक संभव हो जाने से परहेज करें, ज्यादा जरूरत होने पर ही घर से बाहर जायें। घर से बाहर जाते समय मास्क अवश्य लगायें व हैंड सैनिटाइजर अपने साथ अवश्य लेकर चलें तथा समय समय पर प्रयोग जरूर करें। हमारी स्वयं की पहल से ही हम , हमारा परिवार, समाज और देश सुरक्षित हो सकते हैं। देश, समाज व अपने परिवार की सुरक्षा के लिए हमें आगे आना व पहल करनी ही होगी ताकि हम इस महामारी पर विजय पा सके।

 348 total views,  4 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *