कोरोना ने तबाह किया परिवार, 6 दिन में तीन की मौत, परिवार में मचा कोहराम

कोरोना ने तबाह किया परिवार, 6 दिन में तीन की मौत, परिवार में मचा कोहराम

बुलन्दशहर। विगत दिवस नगर कोतवाली अन्तर्गत मौ0 लक्ष्मीनगर में कोरोना संक्रमण से विगत 6 दिनों के भीतर एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत से पूरा इलाका दहल उठा। अधिवक्ता धर्मराज सिंह के परिवार पर कोरोना ने ऐसा कहर बरपाया है कि पूरा परिवार ही टूटकर बिखर गया। इस परिवार में अगर कोई बचा है तो वह है एक तीन साल का मासूम और उसकी बूढ़ी दादी सुषमा। बता दें कि मौं0 लक्ष्मीनगर में कोरोना के दंश से न सिर्फ एक हंसता खेलता परिवार पूरी तरह टूटकर बिखर गया ,बल्कि कोरोना ने 4 साल के मासूम विवान और उसकी दादी सुषमा को जो जख्म दिए ,उनके लिए उन्हें भर पाना नामुमकिन है। अधिवक्ता धर्मराज का परिवार में एक साल पहले सड़क हादसे में हुई जवान बेटे की मौत से उबरा भी नहीं था कि अब इस परिवार को 6 दिनों के भीतर न सिर्फ एक के बाद एक तीन चिताओं को अग्नि देनी पड़ी, बल्कि परिवार में 4 साल के विवान और उसकी वृद्ध दादी सुषमा के अलावा कोई बाकी न रहा है। पेशे से वकील धर्मराज सिंह को एक सप्ताह पहले हल्की खांसी और बुखार के साथ सांस लेने में तकलीफ हुई तो परिजनों ने उनको शहर के निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया। ऑक्सीजन लेबल घट रहा था और धर्मराज में कोरोना के भी लक्षण पाए गए थे। जबकि लक्षण पाए जाने के महज 06 घण्टों के भीतर ही धर्मराज की मौत हो गई। धर्मराज की चिता की राख अभी ठंडी भी न हुई थी कि उनकी भाभी साधना को भी कोरोना के लक्षण के साथ सांस लेने में तखलीफ होने लगी, और उपचार के दौरान साधना की भी मौत हो गई। इतना ही नहीं साधना की चिता से अस्थियों को चुना भी नहीं गया था कि एक साल पहले सड़क हादसे में जान गंवाने वाले धर्मराज सिंह के बेटे की विधवा बबली को भी कोरोना निगल गया। धर्मराज के परिवार पर कोरोना न जो कहर बरपाया,, उसे देखने के बाद कॉलोनी के लोग भी दहशत में हैं।

 198 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *