कोरोना के चलते अनेक न्यायालयों में इलेक्ट्रॉनिक मोड से किया जाएगा विधिकार्य – सुमन तिवारी

कोरोना के चलते अनेक न्यायालयों में इलेक्ट्रॉनिक मोड से किया जाएगा विधिकार्य – सुमन तिवारी

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आमजन की समस्याओं के निस्तारण हेतु किया हेल्प लाईन डेस्क स्थापित
बुलन्दशहर
।जहाॅं हर तरफ कोरोना कहर जारी है ,जिसके कारण कोरोना संक्रमण व्यक्तियों की संख्या बढ़ती जा रही है, ऐसे में कोरोना से बचाव अति आवश्यक है ,जिसके लिए न्यायालयों में विधिकार्य करने के लिए अनेक योजनाएं बनाई गई हैं, जो उच्च न्यायालय इलाहाबाद के आदेशानुसार जनपद न्यायाधीश के दिशा निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा चलाई जा रही है, जिसका सभी अधिवक्तागण एवं वादीकारी ध्यान में रखते हुए कार्य करेंगे ,जिसमें अनेक न्यायालयों का विधि कार्य वेचुवल मोड द्वारा किया जाएगा।
सुमन तिवारी, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलन्दशहर द्वारा बताया गया कि उच्च न्यायालय इलाहाबाद के आदेशानुसार जनपद न्यायाधीश डॉ0 अजय कृष्ण विश्वेश के दिशा निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा चलाई जा रही हैं, अनेक योजनाओं को कोरोना वायरस के चलते फिजिकल मोड एवं वेर्चअल मोड द्वारा न्यायालय में विधिकार्य किया जाएगा, जिसमें फिजिकल मोड से जिला एवं सत्र न्यायाधीश न्यायालय बुलन्दशहर,, अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश न्यायालय कक्ष संख्या-2/विशेष न्यायाधीश (एम पी/एमएलए) बुलन्दशहर,, अपर न्यायाधीश ( ईसी अधिनियम) न्यायालय बुलन्दशहर ,,अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश न्यायालय कक्षा-9/विशेष न्यायाधीश ( गैंगेस्टर अधिनियम) बुलन्दशहर ,जिला एवं सत्र न्यायाधीश न्यायालय कक्ष संख्या-6/विशेष न्यायाधीश ( एनडीपीएस अधिनियम) बुलन्दशहर, अपर न्यायालय एवं सत्र न्यायाधीश स्मॉल केस बुलन्दशहर ,मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट न्यायालय बुलन्दशहर, अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट न्याय कक्ष संख्या-1, सिविल जज (सीनियर डिवीजन) न्यायालय बुलन्दशहर, सिविल जज (जूनियर डिविजन) न्यायालय -1, सिविल जज (जूनियर डिविजन) न्यायालय बुलन्दशहर में कार्य किया जाएगा। विजुअल मोड से स्पेशल जज न्यायालय (एससी एसटी) एक्ट, स्पेशल जज न्यायालय (पोस्को एक्ट), अंडर ट्रायल कैदियों के संबंध में रिमाइंड और बंधपत्र के सत्यापन और रिहाई आदेश तथा कंप्यूटर अनुभाग जनपद न्यायालय बुलन्दशहर द्वारा आयोजित ईमेल पता [email protected] के माध्यम से जमानत प्रार्थना पत्र/अग्रिम जमानत प्रार्थना पत्र /अन्य आवश्यक प्रार्थना पत्र प्राप्त किए जाएंगे। उक्त प्रकार के प्रार्थना पत्र अधिवक्ता द्वारा ईमेल आईडी के माध्यम से भेजे जाएंगे ,जिसमें अधिवक्तागण/वादीकारी के मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी को विस्तृत जानकारी देनी होगी। अधिक जानकारी हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा मोबाइल नंबर जारी किए गए हैं जो 8218363123,व 7668627537 पर संपर्क कर सकते हैं तथा न्यायालय में वही अधिवक्तागण या वादीकारी उपस्थित होंगे ,जिनका मुकदमा उस दिनांक में चल रहा होगा तथा कार्य/सुनवाई के उपरांत न्यायालय छोड़ देना होगा।सभी अधिवक्तागण एवं वादीकारी मास्क पहनकर न्यायालय में प्रवेश करें तथा सेनिटाइजर का प्रयोग करें तथा सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा सभी से अपील की गई है कि अनावश्यक न्यायालय में उपस्थित नहीं हो तथा अपना समय नष्ट न करें। किसी भी मामले में अग्रिम नियत तिथि ई-कोर्ट एप के माध्यम से ज्ञात की जा सकती है। इस कोरोना महामारी में सावधानी बरतते हुए दो गज की दूरी का विशेष ध्यान रखें और मास्क पहनकर रहे और सेनिटाइजर से हाथ साफ करते रहे, जिससे कोरोना कहर से बचा जा सकें और इस महामारी से मुक्ति पा सके।

 192 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *