किसानों पर मुकदमे दर्ज होने के विरोध में धरने पर बैठी भाकियू

किसानों पर मुकदमे दर्ज होने के विरोध में धरने पर बैठी भाकियू

औरंगाबाद/बुलन्दशहर। दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे पर बुधवार को कृषि कानून के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों और भाजपा के प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि के काफिले में मौजूद भाजपाइयों में मारपीट-तोड़फोड़ प्रकरण में भाकियू पदाधिकारियों पर एफआईआर दर्ज होने के विरोध में बृहस्पतिवार की शाम भाकियू लखावटी ब्लॉकाध्यक्ष चौधरी हरवीर सिंह की अगुवाई में राष्ट्रीय नेतृत्व के आहवान पर औरंगाबाद थाना परिसर में अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है। धरने को संबोधित करते हुए भाकियू के युवा जिला प्रवक्ता रवि सैनी ने कहा कि सरकार किसान आंदोलन को कमजोर करने के लिये किसानों पर झूठे मुकदमे दर्ज करवा रही है। लेकिन इससे किसान डरने वाले नही है।जब तक किसान कृषि कानून को वापस नही करा लेते तब तक आंदोलन खत्म नही होगा। इसके लिये किसान जान की बाजी लगाने के लिये तैयार बैठे है। धरने की सूचना थाना प्रभारी योगेंद्र मलिक किसानों के बीच पहुँचे और धरने की खत्म करने की बात कही, लेकिन किसान धरने पर अडिग रहे। किसानों ने कहा कि जब तक मुकदमों को वापस नहीं लिया जाता तब तक थाने में धरना जारी रहेगा। धरने में जॉनी बांद्रा, शिवकुमार शर्मा, सोनू चौधरी, हरिनारायण शर्मा, बॉबी चौधरी, चौधरी प्रेमपाल, कलुआ सिंह चौधरी, केपी सिंह, प्रवेश चौधरी, सूरज सिंह, चौधरी जीत सिंह, किशन भगत, कलवा सिंह आदि मौजूद रहे।

 138 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *