किसानों पर कुदरत ने ढहाया कहर, अन्नदाताओं पर छाई मायूसी

किसानों पर कुदरत ने ढहाया कहर, अन्नदाताओं पर छाई मायूसी

बुलन्दशहर/खुर्जा। तहसील क्षेत्रांतर्गत अरनियां में रवि की फसल पर कुदरत ने कहर बरपाया है, जहां एक तरफ कोरोना जैसे वायरस का कहर तो दूसरी तरफ मूसलाधार बारिश एंव ओलावृष्टि से किसानों पर मायूसी छाई है। इस प्रकार कुदरत की दोहरी मार ने किसानों की मेहनत पर पानी फेर दिया है। बता दें कि मामला अरनिया क्षेत्र के दर्जनों गांव का है, जहां बेमौसम बारिश एवं ओलावृष्टि ने किसानों की रवि की फसल जैसे गेहूं, मटर, चना, मसूर, लाही सहित सब्जियों को तबाह कर दिया और लगातार तीन दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश एवं ओलावृष्टि होने से अन्नदाताओं के चेहरे पर मायूसी छा गई। किसानों ने बताया कि लहलहाती फसलों पर मौसम का कहर इस तरह टूटा कि भारी बारिश के साथ-साथ ओलावृष्टि होने से किसानों की फसलों को भारी क्षति हुई है। मायूस किसानों ने केंद्र और राज्य सरकार से पूरा मुआवजा शीघ्र दिए जाने की मांग की है।

 64 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *