काशः यह  कवायत पहले कर जाती तो शायद गांव में यह मंजर देखने को न मिलता!

काशः यह कवायत पहले कर जाती तो शायद गांव में यह मंजर देखने को न मिलता!

दर्पण टाइम्स की खबर का असर–
राज्यमंत्री ,जिलाध्यक्ष समेत दर्जनों भाजपाई एवं स्वास्थ्य अधिकारी पहुंचे गांव त्यौर बुजुर्ग, जाना लोगों का हाल
बुलन्दशहर।
विगत दिवस दर्पण टाइम्स, समाचार पत्र में खबर प्रकाशित की गयी थी, जिसका हैडिंग-त्यौर बुजुर्ग में डेंगू-वायरल से अब तक करीब 70लोगों की मौत, तीन सौ से अधिक बीमार, स्वास्थ्य विगाभ बेखबर जैसे ही प्रकाशित हुई कि जिले में हड़कम्प मच गया और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी, राज्यमंत्री एवं भाजपा जिलाध्यक्ष अनिल सिसोदिया समेत दर्जन भर अधिकारी आदि गांव त्यौर बुजुर्ग की ओर दौड़ पड़े तथा हर कोई इस खबर को दबाने पर लगा है, साथ ही कोशिश की जा रही है कि त्यौर बुजुर्ग में सब कुछ सही हो जाए। जबकि हाल यह कि शिकारपुर क्षेत्र के गांव त्यौर बुजुर्ग में विगत दो माह से चल रहा मौतों का सिलसिला जारी है, जहां स्वास्थ्य विभाग की टीम जाती तो थी, मगर खानापूर्ति कर वापस लौट जाती थी। जब से समाचार क्या प्रकाशित हुआ ? कि मंगलवार को कुछ अधिकारी, सत्ताधारी पार्टी के मंत्री व नेताओं ने गांव को घेर रखा है। आखिर यह कवायत पहले कर ली जती तो शायद इतने लोग इस भयावह बीमारी से इस गांव में नहीं मरते। फिर भी देर आये दुरूस्त आये वाली कहावत यहां चरितार्थ हो रही है और अब जानकारी होने पर स्वास्थ विभाग की टीम को लेकर सत्ताधारी नेताओं ने गांव जाकर वर्तमान स्थिति को जाना तथा सेनिटाइजर का छिड़काव, पानी के सैंपल, टेस्टिंग तथा स्वच्छता बनाये रखने के निर्देश दिये है। इस अवसर पर चेयरमैन केंद्रीय उपभोक्ता भंडार ठाकुर गिरिराज सिंह ,मंडल अध्यक्ष प्रीतम सिंह ,उपाध्यक्ष किसान मोर्चा तरसेराम गुर्जर व अन्य भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 152 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *