एसटीएफ ने पीएफआई सदस्यों के विरुद्ध 5000 पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में की पेश

एसटीएफ ने पीएफआई सदस्यों के विरुद्ध 5000 पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में की पेश

पांच हजार पन्नों की चार्जशीट को एसटीएफ ने लोहे के बड़े बक्से में लाकर किया पेश
मथुरा । शनिवार को एसटीएफ ने पीएफआई सदस्यों के विरुद्ध 5000पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में पेश की। एसटीएफ टीम चार्जशीट को बक्से में रखकर कोर्ट पहुंची। वहीं अदालत में पांच पीएफआई सदस्यों की व्यक्तिगत रूप से पेशी हुई। एडीजे प्रथम कोर्ट में पीएफआई के पांच सदस्यों की व्यक्तिगत रूप से पेशी हुई, जिसमें अतीकुर्रहमान सिद्दीकी ,कप्पन, मसूद अहमद, आलम और रउफ शरीफ की पेशी हुई। वहीं लखनऊ जेल में बंद होने के कारण पीएफआई एजेंट फिरोज खान और असद की पेशी न्यायालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए की गई। पीएफआई के एजेंटों की पेशी के दौरान एसटीएफ ने करीब 5000 पन्नों की चार्जशीट न्यायालय में पेश की। बक्से में बंद कर करीब 5000 पन्नों की चार्जशीट लेकर कोर्ट पहुंची एसटीएफ ने न्यायालय के समक्ष अब तक की विवेचना में सामने आए सभी तत्वों को रखा। जिला शासकीय अधिवक्ता शिवराम तरकर ने बताया कि हाथरस में दंगा भड़काने की साजिश विदेशी फंडिंग से जुड़े कई अहम तथ्य शामिल है ,जिसके बाद न्यायालय ने चार्जशीट के मामले पर संज्ञान लेते हुए पीएफआई के सभी एजेंटों की न्यायिक हिरासत 01मई तक बढ़ा दी है। अब न्यायालय 01मई को पीएफआई एजेंटों के मामले में अगली सुनवाई करेगा।

 234 total views,  2 views today

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *